हस्तमैथुन के लत को कैसे छोड़े-वैराग्य से।


नमस्कार दोस्तों आपका AnekRoop में स्वागत है। आज हम कुछ ख़ास topic के  बात करेंगे। यह लगभग 90 % युवाओं की परेशानी है। और वह है हस्तमैथुन की। और आज हम  इससे जुडी जानकारी  को आप तक share करना चाहते है ,जो है :-

हस्तमैथुन को हम कैसे छोड़ पाएंगे।
हस्तमैथुन को छोड़ने का आसान तरीका क्या है ?
हस्तमैथुन कैसे काम करता है ?
हस्तमैथुन का इलाज क्या है ?
हस्तमैथुन से वैराग्य कैसे आएगा ?
हस्तमैथुन से होने वाली बीमारियां और उसका नुसकान।

तो चलिए आज के इस topic को शुरू करते हैं और जानते हैं कि हस्तमैथुन को हम कैसे छोड़ पाएंगे।


हस्तमैथुन को हम कैसे छोड़ पाएंगे। 

Point :- मन को मारना नहीं सुधारना है।

जैसे किसी को अच्छा -अच्छा भोजन खाने का मन होता है , किसी को जुवा खेलने का मन होता है , किसी को दारू पिने का मन होता है। इत्यादि।
उसी तरह किसी को हस्तमैथुन करने का मन होता है।

अब प्रश्न यह उठता है कि अब इन सभी आदतों को छोड़ना कैसे है ?
यदि हम बिना सोचे समझे हस्तमैथुन को छोड़ने का प्रयास भी करते हैं तो पर भी कुछ समय बाद हमें यह सुख फिर से भोगने की इक्षा होती है।

कहने का अर्थ है मन उसे भोगना चाहता है और जबरदस्ती उसे रोकते हैं जो की गलत है। क्यूंकि वह भले इन्द्रियों से उसका सुख नहीं भोग पा रहा है किन्तु मनसा से उसको भोग रहा है। जिससे की उसके अंदर की कामना और ज्यादा बढ़ जाती है। और आज कल तो ऐसे गंदे -गंदे फिल्मे आ गए है , जिसको देखने से कोई खुद को रोक नहीं पाते।

तो अब हम इसे कैसे छोड़ेंगे ? यदि आपको इसे छोड़ना है तो सबसे पहले आपको यह समझना होगा कि यह काम कैसे करता है ?
hastmethun ke lat aadat ko kaise chore
hastmethun ke lat aadat ko kaise chore
हस्तमैथुन कैसे काम करता है  ?

उदहारण :- विकार में क्या होता है ?, लोग तो चाहते है कि हम दूसरे स्त्री -पुरुष से भोग ना भोगे क्यूंकि यह पाप है। किन्तु जब वह सुन्दर स्त्री /लड़की देखता है तो उसका मन पिछल जाता है और उस व्यक्ति के मनसा में गलत -गलत विचार चलने लगते हैं।

ऐसे ही दूसरे बुरे आदतों में होता है , दारू पिने वाला दारू दूकान देखकर व्याकुल हो जाता है , जुहाड़ी जुहा अड्डा देखकर अपने को रोक नहीं पाता और जुहा खेलने लगता है। इत्यादि।
ऐसे ही हस्तमैथुन के case में भी होता है। हस्तमैथुन करने वाला व्यक्ति जानता तो है कि यह गलत है लेकिन उसे रोक नहीं पाता है।

अब प्रश्न यह उठता है कि इन सभी बुरी आदतों को छोड़े कैसे ? हस्तमैथुन को छोड़े कैसे ?


हस्तमैथुन का इलाज क्या है ?

उदाहरण :- जब बच्चा महंगी चीजों की मांग करता है तब आप क्या करते है ?
उसे समझाते हैं। और समझाने पर भी वह नहीं मानता है , तो उसे डांटते है।

उसी तरह मन भी सुख भोगने की मांग करता है। लेकिन अब हमें निर्णय करना है कि कौन सा सुख भोगने से फायदा होगा और किससे नुकसान होगा।

यदि किसी चीज को भोगने पर फायदा होता है , तो अंदर से उसे स्वीकारने की इक्षा होती है। और यदि किसी चीज से नुकसान होता है तो लोग उसे पसंद नहीं करते तुरंत त्याग देते हैं।

उसी तरह हस्तमैथुन के विषय में भी है। मन तो चाहता है कि हम हस्तमैथुन करें , सुख भोगे लेकिन जबतक मन उसके बुराइयों , खराबियों के बारे में नहीं जानेगा तब तक वह उससे कैसे दूर जा पायेगा। उसके अंदर से वैराग्य कैसे आएगा।
या कहे आपका मन अभी बच्चा है और उसे आपको बड़ा बनाना है।

इसीलिए यदि किसी मानसिक बीमारी को ठीक करना है , हस्तमैथुन ,शराब ,जुवा।  तो उससे होने वाली हानियां को जानो , जिससे की उसके प्रति वैराग्य आएगा , और जब वैराग्य आएगा तो मन अपने आप सुधर जायेगा। और तब आपका मन बड़ा बन जायेगा।

hastmethun se nuksan
hastmethun se nuksan
हस्तमैथुन से वैराग्य कैसे आएगा ? बीमारियां और नुकसान। 
  • वीर्य बनने में बहुत से खून की जरूरत होती है और हस्तमैथुन करने से सारा खाया हुवा बर्बाद हो जाता है। 
  • हस्तमैथुन /विकार में जाने से क्रोध ,अहंकार बढ़ जाता  है। मुख से गंदे-गंदे गलियां निकलने लगती है। 
  • सारा ज्ञान उड़ जाता है , विद्यार्थियों को फिर से revision करना पड़ता है। या कहे बुद्धि की शक्ति क्षीण हो जाती है। 
  • शरीर आलसी हो जाता है , कुछ काम करने को जी नहीं करता है। 
  • आँखों की रौशनी कम होना और बालों का झड़ना शुरू हो जाता है क्योंकि सारे hormones waste होने लगते हैं। 
  • कम उम्र में ही बुड्ढे जैसे दिखने लगते हैं। 
  • शीघ्र पतन और लिंग का टेढ़ापन होना शुरू हो जाता है। 
  • आप शादी के बाद अपनी पत्नी को खुश नहीं कर पाएंगे। जिससे की अवैध सम्बन्ध और divorse हो रहे हैं।

  • हस्तमैथुन/विकार में जाने से आत्मा भी पतित बनते जाती है। जिससे दुनिया भी पतित भ्रस्टाचारी बनने लगती है।  

    • वीर्य हमारे शरीर में ऊर्जा का श्रोत है हमें किसी भी काम को करने के लिए energy देती है। हम इसे यूँही waste करते रहे तो कुछ ही दिनों में dull कमजोर हो जायेंगे और लगातार लम्बे समय तक कोई काम नहीं कर पाएंगे। ना पढ़ाई और ना कोई नौकरी। 
    • हस्तमैथुन का लत अच्छे से अच्छे इंसान को बुरे से बुरा जानवर बना देती है। females को हम सिर्फ sex object की तरह देखने लगते है। ध्यान उसके body के तरह ही चली जाती है। ऐसे जानवर बन जाते है। 
    • इससे आपकी ज़िन्दगी ख़राब हो रही है , ये समाज ख़राब हो रहा है और फिर देश भी ख़राब हो जायेगा। 

    और एक बात आप मेरा मानिये - कि इसे आप अपना सबसे बड़ा दुसमन मानिये। जब भी आपको इसे करने का मन हो तो उसके तरफ सोचिये और उसको कहिये की तू मेरा सबसे बड़ा दुसमन है। तू मेरे रास्ते का सबसे बड़ा काँटा है , तुझे तो मैं मार दूंगा। तेरी वजह से मेरी ज़िन्दगी बर्बाद हुई है , तुझे तो मैं ख़त्म कर दूंगा।

    इसे 2 से 3 बार बोलिये और जोर -जोर से बोलिये फिर देखिये क्या होता है। आपकी ये बुरी लत ठीक हो जाएगी और फिर आप हमें comment box में लिखिए। कि ये कितना आपके ज़िन्दगी में फायदा किया है और आपकी ज़िन्दगी अब कैसी बन गई है।


    मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको यह जानकारी मदद करेगी। और एक request है कि आप इस post को अपने दोस्तों से share करे। आप अपने facebook , watsapp में भी इसे share करे ताकि और लोगों की भी फायदा मिल सके।
    धन्यवाद।

    Share this

    Never miss our latest news, subscribe here for free

    Related Posts

    Previous
    Next Post »