Pitaji Ko Patra कैसे लिखे in Hindi


नमस्कार दोस्तों आपका AnekRoop में स्वागत है। आज हम जानेंगे कि पिताजी को पत्र कैसे लिखते है। पिताजी को पत्र लिखते समय हमें किन -किन चीजों के प्रति ध्यान रखना चाहिए।  और हम पत्र कई विषयों पर लिखेंगे।
जैसे - पैसे के लिए पिताजी को पत्र , पढ़ाई की उन्नति पर पिताजी को पत्र।

pitaji ko patra kaise likhe
pitaji ko patra kaise likhe
.

पिताजी को पत्र लिखने का तरीका। 
  • जब भी आप पिताजी को पत्र लिख रहे हो , तो पत्र 3 भागों में लिखे। 
  • सबसे पहले आप पत्र में अपने बारे में बताये। हम ठीक है , हमारी पढ़ाई अच्छी चल रही है , यहाँ सब कुसल है। इत्यादि। 
  • अब आपको विषय लिखना है , जिसके बारे में आप पत्र लिख रहे हैं। पैसे के लिए , अपना हाल -चाल सुनाने के लिए , छोटे भाई के पढ़ाई के सम्बन्ध में। इत्यादि। 
  • अब अंत में आपको धन्यवाद करना है - जैसे , माँ को प्रणाम दीजियेगा , सभी घर वालों को मेरा प्यार दीजियेगा। इत्यादि। 



तो चलिए अब हम पिताजी को पत्र लिखते है।  
पढ़ाई में उन्नति होने पर पिताजी को पत्र। 

पूज्य पिताजी। 
सादर प्रणाम , 
                       मैं यहाँ कुसल हूँ। और आशा करता हूँ कि आपलोग भी कुशल होंगे। कई दिनों से आपसे बात नहीं हुई थी , तो सोचा आपको अपना हाल  सुना दूँ। मेरी पढ़ाई बोहोत अच्छी चल रही है।  मैंने पुरे कॉलेज में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। सभी शिक्षक मेरी बोहोत प्रसंशा करते हैं। अब मैं अपनी अगली परीक्षाओं की तैयारी में लग गया हूँ। और अपने सभी परीक्षाओं में प्रथम आने की कोशिश करूँगा। 

आप कैसे हैं ? घर में और सब कैसे है ? प्रीतम की पढ़ाई कैसी चल रही है ? हमें पत्र भेजकर बताइयेगा। 
आप लोगों की बोहोत याद आती है।  इस  बार गर्मी की छुट्टी में आऊंगा।  फिर हम सब घूमने के लिए कश्मीर जायेंगे। 

आज के लिए बस इतना ही। माताजी को मेरा प्रणाम दीजियेगा। और सभी घरवालों को मेरा प्यार। 
                                                                                                       आपका प्यारा पुत्र। 
                                                                                                           सुमित। 

आप इस पत्र का photo भी प्राप्त कर सकते है। 

pitaji ko patra in hindi

पैसे के सम्बन्ध में पिताजी को पत्र। 

पूज्य पिताजी। 
सादर प्रणाम,
                     मैं यहाँ कुशल हूँ। और आशा करता हूँ कि आपलोग भी कुशल होंगे। इंजीनियरिंग में मेरा पहला साल ख़त्म हो चूका है।  मैंने परीक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त किया है ।  सभी शिक्षक मेरी पढ़ाई से बोहोत खुश हैं। और सभी मेरी प्रसंशा करते हैं। दूसरी साल की पढ़ाई अगले महीने से शुरू होगी। जिसके लिए कॉलेज फ़ीस और हॉस्टल फीस की जरूरत है। कॉलेज फीस - Rs . 20,000  और  हॉस्टल फीस  Rs. 10,000 . 

यदि मैं इस बार भी प्रथम स्थान प्राप्त करूँगा , तो मुझे क्षात्रवृत्ति मिलेगी , उसके लिए मैं बोहोत मेहनत कर रहा हूँ। आपलोगों की बोहोत याद आती है , घर से दूर रहना कठिन है , लेकिन यहाँ मेरे बोहोत अच्छे दोस्त बन गए हैं। और वो भी आपसे मिलना चाहते हैं। 

आप कैसे है ? घर में सब कैसे है ? हमे पत्र लिखकर बताइयेगा। माताजी को मेरा प्रणाम दीजियेगा और सभी घर वालों को मेरा प्यार। 
                                                                                                              आपका प्यारा पुत्र। 
                                                                                                                  सुमित। 

आप इस पत्र का photo भी प्राप्त कर सकते है। 
pitaji ko patra likhe hindi me.





तो दोस्तों यह थी पिताजी को पत्र लिखने का तरीका।  आप ऐसे ही अपने पिताजी को पत्र लिख सकते हैं। मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको यह जानकारी जरूर पसंद आई होगी। 
यदि आपका कोई सवाल या कोई सुझाव है तो हमें comment करके बताये। और इस post को अपने दोस्तों तक facebook ,watsap में share करे। ताकि और लोगों को भी मदद मिल सके। 
धन्यवाद। 

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »