राशन कार्ड क्या होता है और Ration card कैसे apply करें? | Ration card in hindi

नमस्कार दोस्तों अनेक रूप में आपका स्वागत है। तो आज हम जानने वाले है कि राशन कार्ड के बारे में की राशन कार्ड क्या होता है ? (What is ration card in hindi ?), राशन कार्ड कितने प्रकार के होते है ?,  नीला, गुलाबी, पीला, सफेद, लाल राशन कार्ड क्या होता है ?

और एक प्रश्न जो सभी के मनो में रहता है की PHH और AAY राशन कार्ड क्या होता है?(AAY और PHH ration card) और इन सभी राशन कार्ड धारकों को कितने अनाज मिलते है? तो आज मैं आपके इन्ही प्रश्नों का जवाब दूंगा और यह भी बताऊंगा की राशन कार्ड के लिए apply कैसे किया जाता है ?

ration card kya hota hai aur ration card ke liye kaise apply kaise karen?
राशन कार्ड 


इस आर्टिकल में आप जानेंगे -


Ration card क्या होता है ? (What is ration card in hindi)


राज्य सरकार के द्वारा जारी की जाने वाली अन्य दस्तावेजों में ration card एक महत्वपूर्ण दस्तावेज़ है जिसके द्वारा राज्य के आर्थिक स्थिति से निम्न वर्ग के लोगो को सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) के द्वारा सस्ते दामों पर उपयुक्त अनाज उपलब्ध कराया जाता है। और यह ration card एक पहचान पत्र की तरह काम करती है। 

आपने यह तो जान लिया किया कि ration card क्या है ?, लेकिन यह जानना बहुत जरूरी हो जाता है की ration card कितने प्रकार के होते है ? तो चलिए अब जानते है । 

Ration card कितने प्रकार के होते हैं ?


राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा प्रणाली (NFSA - 2013) के तहत मुख्य तौर पर राशन कार्ड दो प्रकार के है इन्ही ration card धारकों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली (Public distribution system- PDS) के द्वारा सस्ते दामों में अनाज उपलब्ध कराया जाता है। और वो दोनों राशन कार्ड के प्रकार निम्न है- 

1. PHH ration card (PHH ration card क्या होता है ?)


PHH (Priority household) राशन कार्ड जिसे हिंदी में पात्र गृहस्थी ration card भी कहा जाता है। यह राशन कार्ड लाल और गुलाबी रंग का होता है। यह राशन कार्ड उन लोगों को दिया जाता है जिनकी आर्थिक स्थिति थोड़ी अच्छी है। विभिन्न राज्यों में इस ration card के वितरण के भिन्न-भिन्न criteria है। 

पीएचएच राशन कार्ड धारकों को हर महीने 5 kg अनाज प्रति व्यक्ति दिया जाता है। जिसमे चावल का मूल्य 3 रु प्रति kg, गेहू का मूल्य 2 रु प्रति kg तथा 1 रु प्रति kg मोटे अनाज का वितरण किया जाता है। 

नोट- PHH ration card को Non-priority ration card यानि की गैर प्राथमिकता भी कहा जाता है। 

क से ज्ञ तक की बारहखड़ी को जानने के लिए इसे पढे । 

2. AAY ration card (AAY ration card क्या होता है ?)


AAY (Antyoday ann yojna) राशन कार्ड। अंत्योदय अन्न योजना ration card मुख्यतः पीले रंग का होता है। यह राशन कार्ड राज्य के उन्ही लोगों को दिया जाता है जिनकी आर्थिक स्थिति दयनीय है। यानि की जिन लोगों के पास आय का कोई जरिया नहीं है।  (जैसे- बुजुर्ग आदि) हलकी राज्य सरकार द्वारा एएवाय ration card के वितरण के लिए कुछ और भी criteria है। जो अलग-अलग राज्यों के अलग-अलग है। 

 AAY ration कार्ड धारकों को हर महीने 35 kg अनाज हर परिवारों को दिया जाता है। 

नोट- AAY ration card को priority ration card यानि प्राथमिक का दर्जा दिया जाता है। 

NFSA के लागू होने से पहले TPDS (लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली- Targeted Public Distribution System) के तहत अनाज का वितरण किया जाता था। तब ration card मुख्यतः तीन प्रकार के थे जो इस प्रकार है -

1.  BPL (BPL ration card क्या है ?)


BPL (Below Poverty Line) यानि की गरीबी रेखा से नीचे के लोगों को यह राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। इस ration card का रंग लाल और गुलाबी होता है । राज्य सरकार द्वारा निर्धारित कीये पैमाने के आधार पर ही गरीबी रेखा से नीचे वाले लोगों का पहचान किया जाता है । 

BPL ration card धारकों को 25-35 kg अनाज दिया जाता है।

2. APL (APL ration card क्या होता है ?)


APL (Above Poverty Line) यानि की गरीबी रेखा से ऊपर के लोगों को यह राशन कार्ड दिया जाता है। इस ration card का रंग नीला होता है। यह राशन कार्ड भी राज्य द्वारा निर्धारित किए गए पैमाने के आधार पर ही गरीबी रेखा से ऊपर वाले लोगों को पहचाना जाता है और उन्हे यह राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। 

APL ration card धारकों को 10-15 kg अनाज दिया जाता है। 

3. AY (AY ration card kya है ?)


AY यानि की अन्नपूर्णा योजना। यह AY ration card उन गरीब बुजुर्गों को दिया जाता है जिनकी उम्र 65 वर्ष से ज्यादा हो चुकी है। 

AY ration card धारकों को 10 kg अनाज प्रति महीने PDS द्वारा उपलब्ध कराया जाता है। 

NOTE:- ज्यादातर राज्यों में NFSA (National Food Security Act) लागू हो चुकी है और जिन राज्यों में यह प्रक्रिया में है वहाँ TPDS (Targeted Public Distribution System) के द्वारा ही लोगों को अनाज उपलब्ध कराया जाता है। 

ऊपर दिए गए राशन कार्ड की सूची के अलावा कुछ और राशन कार्ड जैसे सफेद राशन कार्ड भी होते है तो चलिए इसके बारे में भी जान लेते है । 

सफ़ेद ration card क्या होता है ? (what is white ration card in hindi ?)


सफ़ेद ration card उन्ही लोगों को दिया जाता है जो गरीबी रेखा से ऊपर (APL) है। और जिनकी वार्षिक आय 1 लाख से ऊपर है। तथा जिनके परिवार में किसी सदस्य के पास चार पहिया वाहन है और 4 हेक्टेर या उससे अधिक सिंचित भूमि भी है। यह safed ration card एक प्रूफ के तरह होता है की आप भारत के नागरिक हो। 

राशन कार्ड के उपयोग क्या-क्या है ? 


राशन कार्ड के प्रकार को तो हमने जान लिया तो चलिए अब यह जानते है की राशन कार्ड के उपयोग क्या है ? और यदि हमारे पास ration card है तो उसका उपयोग हम कहाँ-कहाँ कर सकते हैं चलिए उसे भी जान लेते है -
  • राशन कार्ड एक प्रूफ होता है की हम भारतीय है। 
  • यदि आप voter id कार्ड बनवाने जा रहे है तो वहाँ ration card की जरूरत पड़ सकती है। 
  • LPG कनेक्शन प्राप्त करने के लिए ration कार्ड की जरूरत पड़ती है। 
  • PAN Card के validation के लिए ration card का भी उपयोग किया जा सकता है। 
  • राशन कार्ड को अपनी पहचान पत्र और निवास प्रमाण पत्र के रूप में उपयोग कर SIM 
    Card, Telephone connection आदि लेने के लिए किया जा सकता है। 
 ऊपर दिए गए उपयोगों के अलावा राशन कार्ड के और भी कई सारे उपयोग है। जो हमारे लिए लिए बहुत जरूरी है। 

Ration card कैसे बनाए ? (How to apply for ration card in hindi ?) 


राशन कार्ड बनाने के लिए हमे कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। जो हमारे पास होना बहुत जरूरी है। तो चलिए जानते है-

राशन कार्ड बनाने के लिए आवश्यक दस्तावेज 


जैसा की आप सभी को पता है की राशन कार्ड को परिवार के मुखिया के नाम के आधार पर ही बनाया जाता है। जिसमे परिवार के सभी सदस्यों के नाम सम्मिलित होते है। तो चलिए अब जानते है की राशन कार्ड को बनाने के लिए आवश्यक दस्तावेजों के बारे में-
  • परिवार के महिला मुखिया की 2 पासपोर्ट साइज़ फोटो 
  • सभी सदस्यों के आधार कार्ड की फोटो कॉपी 
  • वोटर-आयडी का फोटो कॉपी 
  • परिवार के मुखिया की बैंक passbook का फोटो कॉपी 
  • आय प्रमाणपत्र
नोट- कुछ-कुछ राज्यों में महिला मुखिया के फोटो के अलावा परिवार के सभी सदस्यों की भी फोटो की भी आवश्यकता होती है। 

यदि आपने ऊपर दिए गए सभी दस्तावेजों को एकत्रित कर लिया है तो अब आप ration card के लिए apply कर सकते है। ration card के लिए apply करने के लिए दो तरीके है- एक ऑफलाइन और दूसरा अनलाइन। 

जैसा की मैंने आपको शुरुआत में ही बताया की राशन कार्ड अब मुख्यतः दो प्रकार के है- AAY ration card और PHH ration card । AAY ration card वो ही अप्लाइ कर सकते है जिनके पास कोई रोजगार नहीं है और जिनकी वार्षिक आय लगभग 20 हजार है । और PHH ration card वो ही अप्लाइ कर सकते है जिनकी वार्षिक आय 20 हजार से अधिक और 1 लाख रु से कम है। 

नोट- हर राज्यों में इन दोनों ration कार्ड को अप्लाइ करने के criteria अलग-अलग है । 

Ration card को offline कैसे apply करे? (How to apply ration card offline ?)


Offline ration card apply करने के लिए नीचे दिए इन स्टेप्स को फॉलो करे- 
  • Ration card को offline apply करने के लिए आपको एक form fill up करना होगा । और यह form आपको आपके ब्लॉक (प्रखण्ड) में मिल जाएगा। और यदि आप चाहते है कि online इस form को प्राप्त करना तो आपको अपने राज्य के official राशन वितरण वाले website पर जाना होगा। जहाँ से आप यह form अनलाइन प्राप्त कर सकते है। 
  • Form को प्राप्त कर लेने के बाद उसमे पूछे गए information को fill up कर दे। 
  • Form को fill up करने के बाद उसकी बारीकी से एक बार जांच कर ले ताकि गलती होने की कोई गुंजाइश न हो। क्योंकि एक बार कुछ गलत information fill up हो जाने के बाद उसे सुधारना एक अलग सर-दर्द बन जाता है। 
  • अब आप उस form को अपने ration card dealer (कोटेदार) को या food inspector को जमा कर दे। 
यह प्रक्रिया को कर लेने के बाद आप इंतजार करे अपने ration card के बन जाने की। क्योंकि ration card को बनने में अब ज्यादा समय नहीं लगता है। 

Ration card को online कैसे apply करे? (How to apply ration card online ?)


यदि आप चाहते है घर बैठे अपने ration card को बनाना तो आप ration card को online ही apply कर सकते है। Online ration card apply करना थोड़ा आसान हो जाता है क्योंकि इसके लिए आपको physically कही भाग-दौड़ करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है तो चलिए अब जानते है की online ration card kaise apply karen ?

Online ration card apply करने के लिए दिए गए इन स्टेप्स को फॉलो करे -
  • सबसे पहले आप अपने राज्य के official राशन वितरण वाले website पर जाए। 
  • वेबसाईट पर जाने के बाद सबसे पहले आप उसमे यह देखे की apply for a ration card का option कहाँ है 
  • जब आपको यह मील जाए तो आप उस पर क्लिक करे और और वहाँ जाने के बाद अपने जिले को select करे 
  • जिले को सिलेक्ट करने के बाद आप एक फॉर्म पर land कर जायेंगे जहाँ आपको अपने information जैसे- आधार कार्ड, passport size photo, block (प्रखंड), परिवार के सभी सदस्यों की जानकारी आदि को fill करना है। 
  • यह सभी कुछ करने के बाद आपको अपने ration card को प्रिन्ट कर लेना है। 
  • और उसका एक फोटो कॉपी निकाल कर रख लेना है । 

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)


Q: Offline ration card apply करने के बाद कितने दिनों में बनता है ? 

उत्तर: यदि आपने ration card को offline apply किया है तो आपका ration card लगभग 15-30 में बन कर आपके पास पँहुच जाएगा। 

Q: Ration card online apply करने के बाद कितने दिनों में बनता है ?

उत्तर: यदि ration card को online apply किया जाता है तब भी राशन कार्ड बनने में 10-15 दिनों का समय लग ही जाता है। क्योंकि कुछ लंबी प्रक्रियाएं होती है जिनमे इतना व्यक्त लग जाता है। 

Q: हमे ration card online apply करना चाहिए या offline?

उत्तर: यह तो totally आपके ऊपर depend करता है की आप राशन कार्ड कैसे अप्लाइ करना चाहते है यदि आप चाहते है घर बैठे अप्लाइ करना तो बेशक आप online ही apply करे क्योंकि इसमे आपको कोई भाग-दौड़ करने की कोई आवश्यकता नहीं होती है। 


इसे भी पढे-
मुझे पूरी उम्मीद है की आपको यह अच्छी तरह से समझ आ गया होगा की Ration card क्या होता है ? और Ration card को online या offline कैसे apply किया जाता है ? यदि आपको अभी भी कोई प्रश्न है कमेन्ट बोक्स में बेझिझक अपने प्रश्न को पूछे और हां आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ share जरूर करे।  
धन्यवाद !

राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन

नमस्कार दोस्तों Anek Roop में आपका स्वागत है। आज हम जानने वाले है की जब राशन कार्ड न बन रहा हो तो खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन कैसे लिखा जाता है ? अक्सर ऐसा होता है की अपने राशन कार्ड के लिए अप्लाई तो किया लेकिन आपका राशन कार्ड नहीं बना और आपके साथ जिसने अप्लाई किया था उसका बन गया तो ऐसे में आप खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन लिख अपनी समस्या को बता सकते है और उस एप्लीकेशन के जरिये यह अनुरोध कर सकते है की राशन कार्ड को जल्द बनाने की कोशिश करे। 

तो इसलिए आज हम राशन कार्ड न बनने पर खाद्य अधिकारी को कुछ एप्लीकेशन लिखेंगे। जिससे की आप आसानी से खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन लिख सको। और इस एप्लीकेशन को हम हिंदी और English दोनों में लिखना सीखेंगे। 
राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन
राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन 


इस पोस्ट में आप जानेंगे-

  • राशन कार्ड ना बनने पर क्या करे ?
  • राशन कार्ड ना  बनने पर खाद्य अधकारी को एप्लीकेशन- I 
  • राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन-II 
  • Application to Food Officer for not making Ration Card-I
  • Application to Food Officer for not making Ration Card- II

राशन कार्ड न बनने पर क्या करे ?


भारत में राशन कार्ड धारको की जनसँख्या काफी  अधिक है और यह दिन-पर-दिन बढ़ती जा रही है रोज एक भारी संख्या में आज भी राशन कार्ड बन रहे है। लेकिन कई लोग ऐसे है जो राशन कार्ड के लिए अप्लाई तो करते है लेकिन उनका राशन कार्ड नहीं बन पाता है। 

यदि आप भी उन्ही में से एक है तो आप एक बार खाद्य पदाधिकारी को आवेदन पत्र (application) लिख कर अपनी समस्या का वर्णन कर सकते है। आवेदन लिखने के बाद यह संभावना रहती है की आपकी समस्या का समाधान हो जायेगा। तो इसलिए हमे खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन लिखना जरुरी है। तो चलिए जानते है की राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन कैसे लिखा जाता है ?

राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन-I 


सेवा में, 
श्रीमान खाद्य अधिकारी महोदय
धनबाद, झारखण्ड 

22 अगस्त 2021 

विषय- राशन कार्ड बनवाने हेतु आवेदन पत्र। 

मान्यवर,

मैं संतोष मंडल धनबाद जिले के चित्रों गांव का निवासी हूँ। मैं पिछले छः महीने से राशन कार्ड बनवाने के लिए आवेदन कर रहा हूँ। अभी तक मैं तीन बार आवेदन कर चूका हूँ लेकिन फिर भी मेरी राशन कार्ड नहीं बनी है। जब मैं अपनी समस्या को लेकर प्रखंड में जाता हूँ तो तो वहाँ कुछ न कुछ बहाना कर कार्ड को बनाने से टाल दिया जाता है। कुछ घूसखोर भी वहां मौजूद है जो राशन कार्ड बनाने के लिए एक मोटी रक़म का डिमांड करते है। 

अतः मेरा आपसे विनम्र निवेदन है की आप मेरी राशन कार्ड को जल्द से जल्द बनाने की कृपा करे। इसके लिए मैं आपका सदा आभारी रहूँगा। 

आपका विश्वाशी 
संतोष कुमार मंडल 


आप इस एप्लीकेशन का फोटो भी प्राप्त कर सकते है।

राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन-I
राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन-I 



राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन-II 


सेवा में, 
श्रीमान खाद्य अधिकारी महोदय,
धनबाद, झारखण्ड 

23 अक्टूबर 2021 

विषय- राशन कार्ड बनाने हेतू आवेदन पत्र। 

मान्यवर,

मैं विवेक कुमार धनबाद जिले के कोरकोट्टा गांव का निवासी हूँ। मैं पिछले छः महीने से राशन कार्ड बनवाने के लिए आवेदन कर रहा हूँ। अभी तक मैं तीन बार आवेदन कर चूका हूँ लेकिन फिर भी मेरी राशन कार्ड नहीं बनी है। जब मैं अपनी समस्या को लेकर प्रखंड में जाता हूँ तो तो वहाँ कुछ न कुछ बहाना कर कार्ड को बनाने से टाल दिया जाता है।  

अतः मेरा आपसे विनम्र निवेदन है की आप मेरी राशन कार्ड को जल्द से जल्द बनाने की कृपा करे। इसके लिए मैं आपका सदा आभारी रहूँगा। 

आपका विश्वाशी 
विवेक कुमार 

आप इस एप्लीकेशन का फोटो भी प्राप्त कर सकते है। 
राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन-II
राशन कार्ड ना बनने पर खाद्य अधिकारी को एप्लीकेशन-II



Application to Food Officer for not making Ration Card-I


To,
The Food Officer 
Dhanbad, Jharkhand

22 August 2021

Subject- Application form for making ration card.

Dear Sir,

I am Santosh Kumar Mandal and resident of Chitro village of  Dhanbad district. I have been applying for a ration card for the last six months. Till now I have applied thrice but still, my ration card has not been made. When I go to the block with my problem, there is some excuse or the other to avoid making the card. Some bribery is also present there who demand a hefty amount for making ration card.

Therefore, I request you to kindly make my ration card as soon as possible. For this, I will be forever grateful to you.

Yours faithfully
Santosh Kumar Mandal


You can also get a photo of this application.
Application to Food Officer for not making Ration Card-I
Application to Food Officer for not making Ration Card-I



Application to the Food Officer for not making the ration card-II


To,
The Food Officer,
Dhanbad, Jharkhand

23 October 2021

Subject- Application form for making ration card.

Dear Sir,

I Vivek Kumar is a resident of Korkotta village in Dhanbad district. I have been applying for a ration card for the last six months. Till now I have applied thrice but still, my ration card is not made. When I go to the block with my problem, there is some excuse or the other to avoid making the card.

Therefore, I request you to kindly make my ration card as soon as possible. For this, I will be forever grateful to you.

Yours faithfully
Vivek Kumar

You can also get a photo of this application.
Application to Food Officer for not making Ration Card-II
Application to Food Officer for not making Ration Card-II



इसे भी पढ़े-
NOTE:- मुझे पूरी उम्मीद है की जब आप खाद्य अधिकारी को यह एप्लीकेशन लिखेंगे तो आपका राशन कार्ड जरूर बन जायेगा। यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ share जरूर करे। 

धन्यवाद!

मुखिया को एप्लीकेशन कैसे लिखे ?

नमस्कार दोस्तों Anek Roop में आपका स्वागत है। पिछली बार हमने जाना था की मुखिया को पत्र कैसे लिखे ? और इस पोस्ट में हम जानेंगे की मुखिया को एप्लीकेशन कैसे लिखे ? या मुखिया को एप्लीकेशन इन हिंदी या मुखिया को आवेदन पत्र कैसे लिखे ?  तो आज हम कुछ विषयों पर आवेदन पत्र लिखेंगे जैसे- नाली बनाने हेतू मुखिया को एप्लीकेशन, पानी की समस्या पर गांव के मुखिया को आवेदन पत्र। 

आप इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद हिंदी और English दोनों में आराम से आवेदन पत्र (Application) लिख सकते हो। इसलिए इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़िए। 

मुखिया को  एप्लीकेशन कैसे लिखे ?
मुखिया को  एप्लीकेशन कैसे लिखे ?


इस पोस्ट में आप सीखेंगे-

  • मुखिया को एप्लीकेशन कैसे लिखे ?
  • नाली बनाने हेतू मुखिया को एप्लीकेशन 
  • पानी की समस्या पर गांव के मुखिया को आवेदन पत्र 
  • Write an application to the chief for making a drain.
  • Write an application to the head of the village on the problem of water.

मुखिया को एप्लीकेशन कैसे लिखे ?


मुखिया भी एक सरकारी कर्मचारी के रूप में है। अतः मुखिया को जो एप्लीकेशन लिखंगे उसका फॉर्मेट बिलकुल औपचारिक पत्र के फॉर्मेट की तरह ही होगा। तो मुखिया को एप्लीकेशन लिखने से पहले कुछ इन विशेष बातो का ध्यान दे-
  • जैसे हर एप्लीकेशन की शुरुआत सेवा में, एक शब्द के द्वारा होती है उसी प्रकार आप मुखिया को एप्लीकेशन लिखने के लिए करे। 
  • तिथि को आवेदन पत्र में जरूर शामिल करे। 
  • जिस विषय पर आप एप्लीकेशन लिख रहे है उस विषय को एक लाइन में अच्छी तरह से explain करे। 
  • और सबसे महत्वपूर्ण बात आवेदन पत्र को ज्यादा लम्बा न लिखे। इसमें केवल महत्वपूर्ण बातो और अपनी समस्याओं का उल्लेख करे। 
यदि आप विस्तार से जानना चाहते है की एप्लीकेशन कैसे लिखा जाता है तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़े -

नाली बनाने हेतू मुखिया को एप्लीकेशन लिखे। 


सेवा में, 
श्रीमान मुखिया महोदय,
गिरिडीह, झारखण्ड 

15 अगस्त 2021 

विषय- गांव में नाली बनवाने के सम्बन्ध में। 

मान्यवर,

मैं राजू कुमार गोसाई चैता गांव का एक निवासी हूँ। इस आवेदन पत्र के जरिये मैं आपका ध्यान हमारे गांव में पक्की नालियों के न होने की वजह से हो रही परेशानियों की और खींचना चाहता हूँ। नालियों के न होने की वजह से सभी घरों का पानी सड़क पर से होकर के बहता है। जिससे आने-जाने में परेशानी तो होती ही है। साथ ही साथ बदबू के कारण सड़क पर चल पाना बहुत कठिन हो जाता है। 

सड़क पर पानी जमा रहने के कारण मच्छर-मक्खियों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। जो एक बीमारी का घर बनता जा रहा है। इसके अलावा भी कई और सारी समस्याओं का सामना भी करना पड़ रहा है। 

अतः श्रीमान से नम्र निवेदन है की कृपया गांव में नाली निर्माण का कार्य जल्द से जल्द शुरू करवाए ताकि हम सभी गांव वासी इस नाली के समस्या से छुटकारा पा सके। 

आपका विश्वाशी 
राजू कुमार गोसाई

आप इस पत्र का फोटो भी  प्राप्त कर सकते है।

नाली बनाने हेतू मुखिया को एप्लीकेशन लिखे।
नाली बनाने हेतू मुखिया को एप्लीकेशन लिखे। 



पानी की समस्या पर गांव के मुखिया को आवेदन पत्र 


सेवा में,
श्रीमान मुखिया महोदय 
गिरिडीह, झारखण्ड 

15 अगस्त 2021 

विषय- पानी की समस्या से निवारण हेतू आवेदन पत्र। 

मान्यवर,

मैं रोहित बर्णवाल सुकुडीह गांव का निवासी हूँ। इस आवेदन पत्र लिखने का उद्देश्य यह है की मैं आपका ध्यान गांव में फ़ैली पानी की समस्या की ओर खींचना चाहता हूँ। गर्मी के मौसम आते है गांव में पानी की एक असीम संकट सामने आ खड़ी है। 

सभी कुँए, चापाकल के पानी का स्तर काफी नीचे चला गया है। जिससे हम सभी गांववाले एक बून्द पानी के लिए भी तरस रहे है। और इस पानी की किल्लत की वजह से हमे गंदे पानी को ही रोजमर्रा के कामों में उपयोग करना पड़ रहा है। इस गंदे पानी की वजह से लोग बीमार भी पड़ रहे है। 

अतः श्रीमान से मेरा यह नम्र निवेदन है की आप हमारे गांव में फ़ैली पानी की इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए  जल्द से जल्द कोई कदम उठाये। आपके इस सुकार्य के लिए हम आपका सदा आभारी रहेंगे। 

आपका विश्वासी 
रोहित बर्णवाल 

आप इस पत्र का फोटो भी प्राप्त कर सकते है। 

पानी की समस्या पर गांव के मुखिया को आवेदन पत्र

पानी की समस्या पर गांव के मुखिया को आवेदन पत्र 




Write an application to the chief for making a drain.


To,
The Chief,
Giridih, Jharkhand

15 August 2021

Subject- Regarding the construction of drain in the village.

Dear Sir,

I am Raju Kumar Gosai a resident of Chaita village. Through this application, I want to draw your attention to the problems being faced by our villagers due to the lack of drains. Due to the absence of drains, the water of all the houses flows through the road. Due to this, there is a problem with traveling through the road. Also, it becomes very difficult to walk on the road due to the bad smell.

Due to stagnant water on the road, the number of mosquitoes and flies is also increasing continuously. Apart from this, many other problems are also being faced.

Therefore, it is a humble request to sir that please start the work of construction of drain in the village as soon as possible so that all of us villagers can get rid of the problem of this drain.

Yours faithfully
Raju Kumar Gosai

You can also get a photo of this letter.
Write an application to the chief for making a drain.
Write an application to the chief for making a drain.

Write an application to the head of the village on the problem of water


To,
The Chief,
Giridih, Jharkhand

15 August 2021

Subject- Application form for redressal of water problem.

Dear Sir,

I am Rohit Barnwal resident of Sukudih village. The purpose of writing this application is that I want to draw your attention to the problem of water spreading in the village. With the arrival of the summer season, there is an infinite water crisis in the village.

The water level of all the wells and hand pumps has gone down considerably. Due to which all of us villagers are longing for even a drop of water. And because of the scarcity of this water, we have to use only the dirty water for our daily activities. People are also falling ill because of this dirty water.

Therefore, it is my humble request to sir that you should take some steps as soon as possible to get rid of this problem of water spreading in our village. We will always be grateful to you for this good work of yours.

Yours sincerely
Rohit Barnwal

You can also get a photo of this letter.
Write an application to the head of the village on the problem of water
Write an application to the head of the village on the problem of water


इन आर्टिकल को भी पढ़े-
NOTE:- मुझे पूरी उम्मीद है की अब आप बड़ी ही आसानी से अपने  मुखिया को पत्र लिख सकते हो। यदि यह जानकारी आपको पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर share करे। 

धन्यवाद!

डीएसपी को एप्लीकेशन कैसे लिखे ?

 नमस्कार दोस्तों Anek Roop में आपका स्वागत है। आज हम जानेंगे की डीएसपी को एप्लीकेशन कैसे लिखे ? या पुलिस उपाध्यक्ष को  एप्लीकेशन कैसे लिखे ? डीएसपी को पत्र कुछ विषयों पर पत्र लिखेंगे जैसे- दो गुटों के झगड़ो को सुलझाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन, जमीन कब्ज़ा हटाने के लिए  डीएसपी को एप्लीकेशन। 

डीएसपी को पत्र लिखने के लिए हम दो भाषाओं का प्रयोग करेंगे एक हिंदी और एक English ताकि आप अपने इच्छानुसार किसी भी भाषा में डीएसपी को पत्र लिख सके। 

डीएसपी को एप्लीकेशन कैसे लिखे ?
डीएसपी को एप्लीकेशन कैसे लिखे ?


इस आर्टिकल आप जानेंगे-

  • डीएसपी को एप्लीकेशन लिखने के फॉर्मेट 
  •  दो गुटों के झगडे को सुलझाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन लिखे। 
  • जमीन कब्ज़ा हटाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन लिखे। 
  • Write an application to the DSP to resolve the dispute between two groups.
  • Write an application to DSP for removal of land possession.

डीएसपी को एप्लीकेशन लिखने का फॉर्मेट 


डीएसपी को एप्लीकेशन लिखने से पहले डीएसपी के बारे में कुछ जानना जरुरी है जैसे- डीएसपी कहते किसको है ?, डीएसपी का काम क्या है ? इत्यादि। 

आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की  डीएसपी का full form -Deputy Supritendent of Police होता है जिसका hindi meaning पुलिस उपाध्यक्ष होता है। 

पुरे जिलेभर के पुलिस की कमांड एसपी के हाथो में होती है उसके पश्चात डीएसपी का नंबर आता है। अर्थात डीएसपी, एसपी के अंडर में होते है। 

यदि आप जानना चाहते है की एसपी को पत्र व एप्लीकेशन कैसे लिखे तो इन आर्टिकल्स को जरूर पढ़े-

तो चलिए जानते है कि डीएसपी को एप्लीकेशन लिखने का फॉर्मेट क्या है 
  •  एप्लीकेशन की शुरुआत सेवा में शब्द के जरिये करे। 
  • उसके पश्चात तिथि लिखे। 
  • अधिकारी का अभिवादन करे। 
  • एप्लीकेशन लिखने के दौरान उसमे विषय को जरूर शामिल करे ताकि पुरे एप्लीकेशन का सार केवल एक वाक्य में पढ़ा जा सके। 
  • अब मुख्य बातों को लिखे। ध्यान रहे आप अपने समस्याओं को कहानी के रूप में न लिखे। 
यदि आप जानना चाहते है की हिंदी में एप्लीकेशन कैसे लिखा जाता है तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़े-

दो गुटों के झगड़ो को सुलझाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन लिखे। 


सेवा में, 
श्रीमान डीएसपी महोदय,
बोकारो, झारखण्ड 

25 अक्टूबर 2021 

विषय - दो गुटों के झगड़ो को सुलझाने के लिए पत्र। 

महाशय,

गणेश पूजा के मूर्ति विसर्जन के दौरान अफरातफरी मच गई। क्योंकि एन वक्त दो गुटों के बीच जमकर मार-पीट हो गई। और यह झगड़ा केवल वही तक नहीं थमा। जैसे-तैसे तो मूर्ति विसर्जन तो हो गई। लेकिन दूसरे ही दिन फिर दोनों गुटों के बीच गरमा-गर्मी हुई और दूसरे दिन मारपीट में कई लोग घायल भी हो गए। किसी के सिर फटे तो किसी के टांग टूटे। 

अब फिर से जिस गुट के लोग घायल हुए है वह अच्छी तरह से अपने प्रतिद्वंदी को सवक सिखाने की प्लान बना रहे है। और कभी भी इन दोनों गुटों के बीच एक खुनी-खेल हो सकता है। अतः श्रीमान से नम्र निवेदन है की आप इस खुनी-खेल को होने से रोक दे। ताकि कइयों के घर उजड़ने से बच जाये। 

आपका विश्वाशी 
रोहन सिन्हा 

आप इस एप्लीकेशन का फोटो भी प्राप्त कर सकते है।

दो गुटों के झगड़ो को सुलझाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन लिखे।
दो गुटों के झगड़ो को सुलझाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन लिखे।


जमीन कब्ज़ा हटाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन लिखे। 


सेवा में, 
श्रीमान डीएसपी महोदय 
सारन, बिहार 

3 नवंबर 2021 

विषय- जमीन कब्ज़ा हटाने हेतू आवेदन पत्र। 

महाशय 

मेरे घर के बगल में ही जमीन का एक टुकड़ा खाली पड़ा है जो की मेरा है। और पास की एक व्यक्ति ने उस जमीन पर अपना कब्ज़ा करने का मन बना लिया है और वह उस जमीन के टुकड़े को हथियाने की कोशिश कर रहा है। उसने उस पर ईमारत बनवाने के लिए सभी मैटेरियल्स भी गिरवा लिए है। 

जब मैंने उसके इस करतूत का विरोध किया तो वह मुझे गालियाँ देकर उस जमीन पर अपना हक बताने लगा। जब मैंने इसकी शिकायत थाने में की तो दरोगा भी उसी के पक्ष में बोले। हालांकि जमीन के सारे कागज़ात मेरे पास मौजूद है। 

अतः आपसे विनम्र निवेदन है की आप मेरी जमीन को वापस मुझे दिलवाने की जल्द से जल्द प्रक्रिया को शुरू करे इसके लिए मैं आपका सदा आभारी रहूँगा। 

आपका विश्वाशी 
सरोज टुडू 

आप इस पत्र का फोटो भी प्राप्त कर सकते है। 

जमीन कब्ज़ा हटाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन लिखे।
जमीन कब्ज़ा हटाने के लिए डीएसपी को एप्लीकेशन लिखे।



Write an application to the DSP to resolve the dispute between two groups.


To,
The DSP,
Bokaro, Jharkhand

25 October 2021

Subject - Letter to resolve the dispute between two factions.

Dear Sir,

There was chaos during the idol immersion of Ganesh Puja. Because at the time there was fierce fighting between the two groups. And this quarrel did not end there only. Somehow, the idol immersion took place. But on the very next day, there was a heated exchange between the two groups and on the second day, many people were also injured in the fight. In the second day's fight, someone's head is broken, someone's legs are broken.

Now again the faction whose people have been injured are well planning to teach their rival the truth. And at any time there can be a bloody game between these two factions. Therefore, it is a humble request to You that you should stop this bloody game from happening. So that the houses of some may be saved from destruction.

Yours faithfully
Rohan Sinha

You can get the photo of this letter.

Write an application to the DSP to resolve the dispute between two groups.
Write an application to the DSP to resolve the dispute between two groups.


Write an application to DSP for removal of land possession.


To,
The DSP,
Saran, Bihar

3 November 2021

Subject- Application for removal of land possession.

Dear Sir,

A piece of land is lying vacant next to my house which is mine. And a nearby person has made up his mind to take possession of that land and he is trying to grab that piece of land. He has also got all the materials to get the building built on it.

When I opposed this act of his, he started telling me his right on that land by abusing me. When I complained about this to the police station, the inspector also spoke in favor of him. Although I have all the land papers with me.

Therefore, it is a humble request to you that you should start the process of getting my land back to me as soon as possible, for this I will be forever grateful to you.

Yours faithfully
Saroj Tudu

You can also get a photo of this letter.

Write an application to DSP for removal of land possession.
Write an application to DSP for removal of land possession.



इसे भी पढ़े-

NOTE:- मुझे पूरी उम्मीद है की आपको डीएसपी को एप्लीकेशन लिखने / पुलिस उपाध्यक्ष लिखने में कोई परेशानी नहीं होगी। यदि अभी भी आपको कोई परेशानी हो रही है तो उसे कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखे। और यह आर्टिकल आपको helpful लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर share करे। 

डीएसपी को पत्र कैसे लिखे ?

नमस्कार दोस्तों Anek Roop में आपका स्वागत है। आज हम जानेंगे की डीएसपी को पत्र कैसे लिखे ? और उदाहरण के तौर पर डीएसपी को कुछ विषयों पर पत्र भी लिखेंगे जैसे- कन्या की सुरक्षा के सम्बन्ध में डीएसपी को पत्र, धमकी आने पर डीएसपी को पत्र। 

डीएसपी को पत्र हिंदी और English दोनों भाषाओं में लिखना सीखेंगे ताकि आप इन दोनों में से किसी भी भाषा में पत्र को आसानी से लिख सको। 
डीएसपी को पत्र कैसे लिखे ?
डीएसपी को पत्र कैसे लिखे ?

इस आर्टिकल में आप सीखेंगे-

  • डीएसपी को पत्र लिखने की फॉर्मेट 
  • कन्या की सुरक्षा के सम्बन्ध में डीएसपी को पत्र 
  • धमकी आने पर डीएसपी को पत्र 
  • Write a letter to DSP regarding girl security.
  • Write a letter to the DSP after receiving the threat.

डीएसपी को पत्र लिखने की फॉर्मेट 


डीएसपी को पत्र लिखने से पहले चलिए यह जान लेते है की डीएसपी शब्द का अर्थ क्या है ? डीएसपी का पद क्या है ?

डीएसपी का फुल फॉर्म Deputy Supritendent of Police जिसका hindi meaning पुलिस उपाध्यक्ष होता है। डीएसपी, एसपी के अंडर में होते है। 
इसे भी पढ़े-
 डीएसपी को पत्र लिखना काफी सरल है क्योंकि इस पत्र को लिखने के लिए अनौपचारिक पत्र के फॉर्मेट का इस्तेमाल किया जाता है। डीएसपी को पत्र लिखने से पहले रखे इन विशेष बातों का ध्यान-
  • पत्र की शुरुआत अपने पते से करे। 
  • पत्र में तिथि को मेंशन जरूर करे। 
  • डीएसपी को अभिवादन करे। 
  • पत्र में विषय को जरूर शामिल करे ताकि पत्र को एक नजर में देखते ही यह पता लग जाये की यह किस विषय पर है। 
  • उसके बाद आप अपनी समस्या को कम और समझने योग्य शब्दों में उल्लेख करे। 

यदि आप जानना चाहते है की औपचारिक और अनौपचारिक पत्र कैसे लिखा जाता है तो इन  आर्टिकल्स को जरूर पढ़े-

कन्या सुरक्षा के सम्बन्ध में डीएसपी को पत्र लिखे। 


गुमला,

5 नवंबर 2021 

श्रीमान डीएसपी महोदय 
गुमला, झारखण्ड 

महाशय

विषय- कन्या सुरक्षा के सम्बन्ध में पत्र। 

21 वीं में फिल्मो के अधिक प्रचलन होने से इसका बुरा असर युवाओं पर अधिक पड़ा है। और वो युवा जिन्हे जाकर अपने करियर की चिंता करनी चाहिए। वो फिल्मो में देखकर उनका कॉपी करने लग पड़ते है। तथा फिल्मो में बहुत सारे चीज ऐसे दिखाएँ जाते जो काफी चिंता जनक है। और उन्ही फिल्मो की वजह से कन्याओं को लड़को की गन्दी-गन्दी फब्तियों को सुनना पड़ता है। 

इन फिल्मो में दिखते भी तो वही है बस लड़कियों को छेड़ना, उनका इस्तेमाल कर छोड़ देना आदि। जब लड़कियाँ कॉलेज, स्कूल या कोचिंग सेंटर पर जाती है तो उन्हें यह सब भी सुनना पड़ता है। और जब वे शिकायत करती है तो अधिकारी भी चुप्पी साध देते है और इस मामले से दुरी बना लेते है। 

अतः श्रीमान से नम्र निवेदन यह है कि आप इस गंभीर समस्या को जल्द से जल्द सुलझाने का प्रयास करे। ताकि कन्याओं की सुरक्षा बरक़रार रह सके। 

भवदीय 
रोहित सिंह 


आप इस पत्र का फोटो भी प्राप्त कर सकते है।
कन्या सुरक्षा के सम्बन्ध में डीएसपी को पत्र
कन्या सुरक्षा के सम्बन्ध में डीएसपी को पत्र 


धमकी आने पर डीएसपी को पत्र लिखे। 


जमशेदपुर

12 नवंबर 2021 

श्रीमान डीएसपी महोदय 
जमशेदपुर, झारखण्ड 

महाशय 

विषय- धमकी आने पर सहायता हेतू पत्र। 

मुझे पिछले कुछ दिनों से धमकी भरे मैसेज और कॉल आ रहे है। क्योंकि कुछ दिनों पहले मैंने एक अवैध रूप से चल रहे बालू खनन की सूचना पुलिस को दे दी थी। 

जिससे उस अवैध बालू खनन करवाने वाले मालिक को काफी नुकसान हुआ और उसका बदला लेने के लिए वो मुझे जान से मारने की धमकी दे रहा है। 

अतः श्रीमान से मेरा यह निवेदन है कृपया इस मामले पर अपनी नजर जमाये। मुझे इस समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करे इसके लिए मैं आपका सदा आभारी रहूँगा। 

आपका विश्वाशी 
नरेंद्र तोमर 

आप इस पत्र का फोटो भी प्राप्त कर सकते है। 
धमकी आने पर डीएसपी को पत्र लिखे।
धमकी आने पर डीएसपी को पत्र लिखे। 

Write a letter to DSP regarding girl security.


Gumla,

5 November 2021

To,
The DSP,
Gumla, Jharkhand

Dear Sir,

Subject- Letter regarding girl security.

Due to the high prevalence of films in the 21st,  century. Youths are badly affected by this. And those young people who should go and worry about their career. Watching the movies, they start copying them. And in films, many things are shown in such a way which is very worrying. And because of those films, the girls have to listen to the dirty words of the boys.

Even as seen in these films, it is the same just to tease girls, leave after using them, etc. When girls go to college, school, or coaching center they have to listen to all this also. And when they complain, The officers don't take any immediate action regarding girl security.

Therefore, it is a humble request that you try to solve this serious problem as soon as possible. So that the safety of the girls can be maintained.

Yours faithfully
Rohit Singh

You can get the photo of this letter. 
Write a letter to DSP regarding girl security.
Write a letter to DSP regarding girl security.


Write a letter to the DSP after receiving the threat.


Jamshedpur

12 November 2021

To,
The DSP,
Jamshedpur, Jharkhand

Dear Sir, 

Subject - Letter for help when threatened.

I have been receiving threatening messages and calls for the last few days. Because a few days ago I had informed the police about an illegal sand mining.

Due to which the owner of illegal sand mining had to lose a lot of money. And just for this loss, he wants to take revenge by killing me and for this, he is threatening me.

So I request you, sir, please kindly look into this matter. I will be forever grateful to you for helping me to get rid of this problem.

Yours faithfully
Narendra Tomar

You can get the photo of this letter.
Write a letter to the DSP after receiving the threat.
Write a letter to the DSP after receiving the threat.


इसे भी पढ़े-
NOTE:- मुझे यह पूरी उम्मीद है अब आपको डीएसपी को पत्र / पुलिस उपाध्यक्ष को पत्र लिखने में कोई परेशानी नहीं होगी। लेकिन यदि अभी भी आपको इस पत्र को लिखने में कोई समस्या आ रही है तो उसे comment box में अवश्य कमेंट करे। और यदि यह आर्टिकल आपको ज़रा भी helpful लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ share करना न भूले। 

धन्यवाद!

एसपी को पत्र कैसे लिखे ?

नमस्कार दोस्तों Anek Roop में आपका स्वागत है। आज हम जानने वाले है कि एसपी को पत्र कैसे लिखे ?/ पुलिस अधीयक्ष  को पत्र कैसे लिखे ? हम पत्र  लिखने की शैली को शुरुआत से जानेंगे और एसपी को कुछ विषयों पर पत्र भी लिखना सीखेंगे जैसे - एसपी को जमीन विवाद के सम्बन्ध में पत्र लिखेंगे, क्षेत्र में बढ़ती हुई चोरियों की शिकायत करते हुए एसपी को  पत्र लिखेंगे। 

इस आर्टिकल में एसपी को पत्र हिंदी और English दोनों भाषाओं में लिखना सीखेंगे ताकि आप जिस भी भाषा में लिखना चाहे  आप आसानी से लिख सके। 

एसपी को पत्र कैसे लिखे ?
एसपी को पत्र कैसे लिखे ?


इस पोस्ट में आप सीखेंगे-

  • एसपी को पत्र क्यों और कैसे लिखा जाता है ?
  • जमीन विवाद के सम्बन्ध में एसपी को पत्र 
  • क्षेत्र में बढ़ती हुई चोरियो की शिकायत करते हुए एसपी को शिकायत पत्र 
  • Letter to the SP regarding to the land dispute.
  • Letter to the SP complaining about increasing thefts in area.
जानिए 2020 के UPSC Topper शुभम कुमार के बारे में । 

एसपी को पत्र क्यों और कैसे लिखा जाता है ?


उपरोक्त प्रश्न का उत्तर जानने से पहले यह जानना जरुरी है कि आखिर एसपी (SP) है कौन। तो आपकी जानकारी के लिए बता दूँ कि SP का fullform 'Superintendent of Police' होता है। जिसका hindi meaning 'पुलिस अधीयक्ष ' होता है। एसपी जिले भर के पुलिस के अध्यक्ष होते है। यानि की जिले में जितने भी पुलिस होते है इनके ही अंडर होते है। तो चलिए अब जानते है की एसपी को पत्र कैसे लिखे ?

किसी भी सरकारी अधिकारी जिनसे हमारा कोई पर्सनल सम्बन्ध नहीं होता है। और उनको यदि किसी कार्यवश कोई पत्र लिखा जाता है तो वो पत्र औपचारिक पत्र (Formal Letter) के अंतरगर्त आता है। 

औपचारिक पत्र  लिखने के कुछ महत्वपूर्ण नियम है जैसे-
  • अपने पते को अवश्य को लिखे। 
  • तिथि को मेंशन करना न भूले। 
  • उनका अभिवादन करे। 
  • और सबसे महत्वपूर्ण बात विषय को केवल एक वाक्य में सटीक शब्दों में लिखे ताकि पत्र का विषय पढ़ते ही यह अनुमान लगाया जा सके की यह पत्र किस  बारे में है। 
  • पत्र को ज्यादा लम्बा न लिखे लेकिन जितना भी बड़ा पत्र लिखे उसमे अपने समस्याओं का विवरण पूरी स्पष्टता से करे। 

औपचारिक और अनौपचारिक पत्र कैसे लिखा जाता है। इसे विस्तार से जानने के लिए इन आर्टिकल्स को जरूर पढ़े-

जमीन विवाद के सम्बन्ध में एसपी को पत्र 


सरायढेला,
धनबाद, झारखण्ड

22 अगस्त 2021 

श्रीमान एसपी महोदय,
धनबाद, झारखण्ड 

मान्यवर,

विषय- जमीन विवाद के सम्बन्ध में। 

मैं धनबाद जिले के सरायढेला का निवासी हूँ।  यहाँ मैं एक जॉइंट फॅमिली में रहता हूँ लेकिन किसी आपसी मतभेद के कारन मेरे और मेरे छोटे भाई के बीच झगड़ा हो गया। और यह बात जमीन-विवाद तक बढ़ गया। मेरी आपसे विनती है की आप इस मसले पर थोड़ा ध्यान दे। और आप इसे सुलझाने का प्रयास करे। 

जमीन विवाद बढ़ने का मुख्य कारण कारण यह है की वह जमीन की आधे से अधिक भाग पर अपना हक जमा रहा है। और मुझे उसमे से मेरा पूरा हिस्सा नहीं मिल रहा है। इस विवाद को लेकर मैं पास के थाने में भी गया था। तो वो इस झगडे को सुलझाने के बजाय उसके पक्ष में बोल रहे है। 

इस तरह यह विवाद सुलझ नहीं रहा है। और दिन-दर-दिन बढ़ता जा रहा है। मेरी आपसे यही प्रार्थना है की आप जितनी जल्दी हो सके इस विवाद को सुलझाने का प्रयास करे। 

भवदीय,
राकेश कुमार 

आप इस पत्र का फोटो भी प्राप्त कर सकते हैं। 

जमीन विवाद के सम्बन्ध में एसपी को पत्र।
जमीन विवाद के सम्बन्ध में एसपी को पत्र। 

क से ज्ञ तक की बारहखड़ी को जानने के लिए इसे पढे। 

क्षेत्र में बढ़ती हुई चोरियों की शियाकत करते हुए एसपी को पत्र 


भागा
बोकारो, झारखण्ड 

28 अगस्त 2021 

श्रीमान एसपी महोदय,
धनबाद, झारखण्ड 

महाशय 

विषय- क्षेत्र में बढ़ती हुई चोरियों पर रोक लगाने हेतु पत्र। 

मेरी आपसे यह नम्र निवेदन है की इस समस्या को अपने स्तर सुलझायें और पुरे क्षेत्रवासियों को इस अक्सर होने वाली चोरी के घटना के मुक्त कराये। मामला यह है की आज-कल ये चोरी की घटना लगातार बढ़ती ही जा रही है। 

पहले तो यह कभी-कभार सुनने को मिलता था लेकिन अब यह आम हो गई है और प्रतिदिन शहर के 4 से 5 जगहों पर चोरी की घटना सुनने को मिल रही है। साइकिल, मोटर साइकिल को कही खड़ा करने से भी डर लगता है। क्योंकि इन चीजों की चोरियाँ ज्यादा हो रही है। यदि घर के बाहर कोई सामान पड़ा हो तो शाम तक वो वहाँ नहीं रहता है। 

यह मामला केवल यहाँ तक ही सिमित नहीं है। क्योंकि रास्ते पर चलने वाली महिलाएँ भी सुरक्षित नहीं है। क्योंकि चैन-स्नैचर्स गले में पड़ी चैन व कान के झुमके को भी नहीं छोड़ रहे है। 

अतः इस शहर में हो रही इस प्रकार के घटनाओं से हम सभी परेशान है। आपसे हमारा यही निवेदन है आप इस मामले से निपटने का प्रयास करे ताकि हम सभी सुरक्षित रह सके। 

भवदीय 
रंगा यादव व 
सम्पूर्ण क्षेत्रवासी 

 आप इस पत्र  का फोटो भी प्राप्त कर सकते है। 

 
क्षेत्र में बढ़ती हुई चोरियों के सम्बन्ध में एसपी को पत्र।
क्षेत्र में बढ़ती हुई चोरियों के सम्बन्ध में एसपी को पत्र। 

Letter to the SP regarding a land dispute


Saraidhela,
Dhanbad, Jharkhand

22 August 2021

To,
The Superintendent of Police,
Dhanbad, Jharkhand

Dear Sir,

Subject- Regarding land dispute.

I am a resident of Saraidhela in the Dhanbad district. Here I live in a joint family, but a fight broke out between me and my younger brother due to some mutual differences. And this thing escalated to a land dispute. I request you to give some attention to this issue. And you try to solve it.

The main reason for increasing the land dispute is that he is claiming his right on more than half of the land. And I am not getting my full share out of that. I also went to the nearby police station by taking my problem, but he is speaking in his favor despite solving this dispute.

Thus this dispute is not resolved. And it is increasing day by day. It is my request to you that you should try to resolve this dispute as soon as possible.

Yours faithfully,
Rakesh Kumar

You can get the photo of this letter.
Letter to the SP regarding a land dispute
Letter to the SP regarding a land dispute



Letter to the SP complaining about the increasing thefts in the area


Bhaga
Bokaro, Jharkhand

28 August 2021

To,
The Superintendent of Police
Dhanbad, Jharkhand

Dear Sir,

Subject- Letter to stop the increasing thefts in the area.

It is my humble request to you to solve this problem at your level and make the entire area free from this frequent theft incident. The matter is that these theft incidents are increasing day by day.

Earlier it was occasionally heard but now it has become common and every day 4-5 incidents of theft are being heard in 4 to 5 places of the city. We are also afraid to park the bicycle, motorcycle anywhere. Because theft of these things is happening more. If there is any item lying outside the house, that does not stay there till evening.

This matter is not limited to this only. Because even the women walking on the road are not safe. Because the chain-snatchers are not leaving the chain lying around the neck and even the earrings.

Therefore, we are all troubled by such incidents happening in this city. This is our request to you, you should try to deal with this matter so that we all can be safe.

Yours faithfully
Ranga Yadav and
All residentials 

You can get the photo of this letter.
Letter to the SP complaining about the increasing thefts in the area
Letter to the SP complaining about the increasing thefts in the area



इसे भी पढ़े-
NOTE:- आशा करता हूँ की अब आपको एसपी को पत्र / पुलिस अध्यक्ष को पत्र लिखने में कोई परेशानी नहीं होगी। लेकिन यदि अभी भी कोई परेशानी है तो उसे कमेंट बॉक्स में comment अवश्य करे। और यदि यह आर्टिकल आपको helpful लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य share करे। 

धन्यवाद!