Naya Gana Banane Ke Liye Lyrics- कुछ मंजिल ना रहा , समय ये बदल गया।


नमस्कार दोस्तों आपका AnekRoop में स्वागत है।  आज हमने एक ऐसा गीत लिखा है , जो की वर्तमान जीवन को दर्शाता है।  यह गीत हम सभी लोगों के लिए है , जिस तरह से दुनिया बदल रही है , उनका जीवन बदल रहा है।
पिछले 100 सालों में जिस प्रकार ये दुनिया बदली, इतना परिवर्तन पिछले 2000 सालों में नहीं हुवा था।

Science के साधन तो आये , लेकिन दुनिया की प्रकृति बदल गयी।  यह science और बढ़ती आबादी कई रोग लाए , महंगाई लाई। और एक चीज जो सबसे ख़राब आई , वो है बेईमानी।

naya gaana banane ke liye lyrics
naya gaana banane ke liye lyrics

तो ये गीत उन लोगों के लिए है , जो इस दुनिया के परिवर्तन के चलते अपने सपनों को पूरा नहीं कर पा रहे है। और दुनिया से अब कुछ नहीं चाह रहे हैं।

तो चलिए अब ये गीत सुनते है - कुछ मंजिल ना रहा , समय ये बदल गया।

समय - समय की बात है प्यारे ,
जी ले अब तू  समय के सहारे।
ना धोती होगा , ना कुर्ता होगा , और ना होगा दिल ,
बस ये संसार होगा , और ना होगा कोई मंजिल।

जादू सी दुनिया है प्यारे ,
जादूवी मेरा संगीत है प्यारे।
कभी हंसती , कभी रोती , दुनिया की रीत है प्यारे।

याद कर वो जवाना , जब सोने की चिड़ियाँ होती थी ,
सोने की दुनिया होती थी , सोने जैसा दिल होता था।
सोने की दिलों में , प्यारा सा इक मन होता था।

समय - समय की बात है प्यारे ,
जी ले अब तू  समय के सहारे।

लो आ गई  ऐसी दुनिया , जो हो गई बेरंग सी ,
सोने की जगह पर कुछ लोहे की सकल सी।
ना रहा प्यार , ना रही मोहब्बत , बस रह गई चतुराई ,
सोने भी अब मिलते हैं , वो भी लोहे वाली ।

आदते ख़राब हुवे , दुनियावीं ये रंग से ,
शराब , दारू , गुटखा , ये लोगों के पसंद हुवे।
लो बढ़ गई आबादी , और बढ़ गई बीमारी,
आज के ये अर्जुन , वो भी अब अशूर हुवे।

देखते ही देखते , जो दुनिया ये बदल गया ,
हालते ख़राब हुई , बेरोजगारी भी उछल गया।
रास्तें ए मंजिल , अब जीने का ही रह गया ,
मिट गए हैं सपने , क्यूंकि दुनिया ये बदल गया।

समय - समय की बात है प्यारे ,
जी ले अब तू  समय के सहारे।



तो  दोस्तों यह था मेरा गीत , इस दुनिया के ऊपर , मैं उम्मीद करता हूँ की आपको ये बेहद पसंद आया होगा।
आप इसे जरूर अपने दोस्तों तक सहारे करे , ताकि मुझे और प्रेरणा मिल सके।
धन्यवाद।

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »