Net Banking Apply Karne Ke Liye Application




इस post में मैंने  Net Banking Apply Karne Ke  लिए application लिखा है।
यह application सरल हिंदी भाषा में है। और सभी बैंकों के लिए मान्य है।
आप इस page को bookmark भी कर सकते है ,ताकि बाद में आपको यह page ढूंढने में परेशानी ना आये।
bookmark करने लिए आप Ctrl +D दबा के कर सकते है।

Net banking apply Karne Ke liye application

Net Banking Apply Karne Ke Liye Application

सेवा में ,
                 श्रीमान शाखा प्रबंधक 
                 (बैंक का नाम , पता )
                 विषय -नेट बैंकिंग शुरू करने हेतु । 
                 महाशय ,
                                सविनय निवेदन है कि मैं (अपना नाम लिखे ) आपके बैंक का एक खाताधारी हूँ। 
मैं अपने खाते के साथ नेट बैंकिंग की सुविधा चालू कराना चाहता हूँ।
                           अतः श्रीमान से निवेदन है कि आप हमारे खाते के साथ  नेट बैंकिंग की सुविधा जोड़ दें।  इसके लिए हम सदा आपके आभारी रहेंगे।

                                    
                        दिनांक (              )    
                                                                                       आपका विश्वासी। 
                                                                                     नाम           - (अपना नाम लिखे )
                                                                                    A /C  no.    - (अकाउंट नंबर लिखे )
                                                                                    मो               - (मोबाइल no  )
                                                                                      (Sign करें )

Jan Vitran Pranali कोटा ki Jankari सच्चाई


नमस्कार दोस्तों ,आज हम जानेंगे जन वितरण प्रणाली (कोटा ) क्या है ? जन वितरण प्रणाली का भाव ,यह कैसे काम करती है ? , जन वितरण प्रणाली दुकान कैसे चलती है ? जन वितरण प्रणाली का लाभ कौन उठा सकते है ? जन वितरण प्रणाली का दुकान कैसे खोले ? जन वितरण प्रणाली की सच्चाई क्या है और कुछ महत्वपूर्ण बातें जो आपको जाननी चाहिए।

jan vitran pranali ki jankari
jan vitran pranali ki jankari


जन वितरण प्रणाली (कोटा ) क्या है 

भारत के गांव और शहरों में कम कीमत में राशन देना यह जन वितरण प्रणाली का काम है। इसमें आपको चावल ,गेहूँ ,चीनी ,नमक ,केरोसिन तेल आदि जैसी वस्तुएं कम कीमत में मिलती है।

जन वितरण प्रणाली सरकार के द्वारा चलाई गयी योजना है जो की वर्षों से भारत के लोगों को सेवा प्रदान कर रही है।
इसमें हरेक गांव /वार्ड में राशन का दुकान खोला जाता है -जिसका नाम कोटा रखा जाता है और दूकानदार को डीलर के नाम से जाना जाता है।

हरेक डीलर का अपना एक लाइसेंस नंबर होता है ,जिससे की वह राशन उठा और बैंच पाता है।

हरेक राज्य अपने अनुसार वस्तुओं की लेन -देन करती है। जैसे -कई राज्य गेहूं वितरण करती है तो कई राज्य नहीं। कई राज्य चीनी वितरण करती है तो कई नहीं।

जन वितरण प्रणाली का भाव 

जैसा की मैंने पहले ही बता दिया है कि इसकी सामान की भाव बोहोत ही कम है। जिसकी जानकारी नीचे दी गयी है।

चावल - Rs 1 /kg
गेहूँ    - Rs 1 /kg
नमक- Rs 1 /kg
चीनी - Rs 24 /kg
केरोसिन तेल - Rs 29.35/lt
आदि।



जन वितरण प्रणाली का लाभ कौन उठा सकते है 

ऐसा व्यक्ति जो भारत का नागरिक हो और सरकारी कर्मचारी ना हो। तो वह जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत सामान खरीद सकता है।
जिसके लिए आपको लाल कार्ड ,पीला कार्ड बनवाना पड़ता है।

जन वितरण प्रणाली का दुकान कैसे खोले 

यदि आप बेरोजगार है और जन वितरण प्रणाली का दुकान खोलना चाहते है तो आप खोल सकते है।
इसके लिए कुछ नियम है -यह दुकान जिसे कोटा कहते है वही व्यक्ति खोल सकता है जो भारत का नागरिक हो।
पहले यह कोटा के लिए कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता था , लेकिन अब ऐसा नहीं है।
अब यह कोटा सिर्फ समूह को दिया जाता है। और सिर्फ कोटा ही नहीं जितने भी सरकारी कार्य आ रहे है सब समूह को ही दिया जा रहा है।

यदि आप अपने गांव /वार्ड में किसी भी तरह के समूह का हिस्सा हैं तो आप इसके लिए आवेदन कर सकते है।



जन वितरण प्रणाली की सच्चाई 

यह बोहोत ही दुःख के साथ कहना पड़ रहा है कि जन वितरण प्रणाली में बोहोत ज्यादा corruption है। आज इस post के द्वारा मैं उन सभी भ्रष्टाचारियों का पर्दा साफ़ करने वाला हूँ जो की जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत आते हैं।

1 . चावल की कटौती - एक चावल का बोरी 50 kg के अनुसार दुकानदार (dealer ) को दिया जाता है , लेकिन वह चावल की बोरी में सिर्फ 47-48 kg ही चावल रहती है। बाकि के चावल सरकारी कर्मचारी और सरकार मिलकर खा जाती है।

हरेक दुकानदार (dealer ) को 60 -70 किंटल चावल मिलती है और हरेक किंटल के हिसाब से 1 kg चावल , चावल भंडार वाले काट लेते है।
जैसे -  70 किंटल चावल का 70 kg चावल , भंडार वाले काट लेते है।

और इतने में भी जब इन भ्रष्टाचारियों का पेट नहीं भरता है तब video officer के नाम पर 25 -30 kg चावल काट लेते हैं।
और अंत में दुकानदार (dealer ) के पास 70 किंटल चावल की जगह 66 से 67 क्वींटल चावल ही मिलता है।

और जब दुकानदार (dealer ) वही चावल की पूर्ति करने के लिए ग्राहक से 2 -3 kg चावल की कटौती करता है तब उसे तरह -तरह के गालियां सुनना पड़ता है।

और यह भ्रष्टाचार सिर्फ चावल में नहीं बल्कि सभी सामानो में होती है।

और अंत में आम लोगों को 5 kg  चावल की जगह 4  kg  चावल ही मिल पाता है और नाम ख़राब होता है दुकानदार (dealer ) का।

इसमें आम लोग और dealer कुछ कर नहीं सकते क्यूंकि इसमें -सरकार ↦DSO↦MO↦VIDEO↦भंडार मालिक से लेकर सभी लोग मिले होते है और सब भ्रष्टाचार की कमाई खाते है।

2. License के लिए घुस लेते है -
जन वितरण प्रणाली (कोटा ) एक ऐसा दुकान है जो की पुरखों तक चलती है। बाप के बाद पत्नी ,बेटा  आदि।

यदि किसी दुकानदार (dealer ) की मृत्यु हो जाती है और उसकी पत्नी अपने नाम पर license लेना चाहती है तब उससे घुस लिए जाते है।

ये लोग ऐसे हैं कि आपके आवेदन को बिना घुस के महीनो तक जमा भी नहीं करेंगे तो प्रक्रिया करने की दूर की बात है।
इसके लिए लाखों रुपये घुस लेते हैं और कोई officer bychance ईंमानदार निकला तो उसको जबरजस्ती बेईमान बनाया जाता है।

और ऐसा सिर्फ जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत नहीं होता बल्कि सभी सरकारी काम के लिए होता है।

जन वितरण के अंतर्गत महत्वपूर्ण जानकारी 


  • कभी भी आप जन वितरण प्रणाली के अंतर्गत सामान खरीद रहे हैं तो उसका रसीद जरूर ले। 
  • जितना हो सके प्रत्येक महीना राशन उठाये। क्योंकि 2  महीने राशन नहीं उठाने पर सारा राशन  सरकार का हो जायेगा। 
  • अपना राशन कार्ड संख्या दूसरे डीलर को ना दिखाए। वह आपके राशन कार्ड से छेड़ खानी कर सकता है। 
  • mobile no registration और aadhar seeding के लिए कोई भी पैसा डीलर को नहीं दे। क्योंकि यह डीलर के मशीन द्वारा मुफ्त में होता है। और यह डीलर की जिम्मेदारी होती है। 

जन वितरण प्रणाली दुकान कैसे चलती है 


  • सबसे पहले दुकानदार को महीने में आवंटन (allotment ) आता है कि आपको इस महीने इतना सामान भंडार से उठाना है। 
  • दुकानदार उन सामानों का draft बनाता है और उसे भंडारे से खरीद लाता है। 
  • और फिर वह उस सामान को लोगों में वितरण कर देता है। 
  • यह वितरण, मशीन के द्वारा होती है ,लोगों को राशन खरीदने के लिए अपना अंगूठा मशीन में लगाना पड़ता है उसके बाद ही वह राशन ले पाता है। 
  • दुकानदार अपने register में कार्ड नंबर और राशन की मात्रा लिखता है जिसके बाद आप राशन वितरण कर सकते है। 


Note - जन वितरण प्रणाली को देश के विकाश के लिए बेहतर बनाया जा सकता है लेकिन इसके लिए जरूरत है एक और नए मशीन की।
जिस प्रकार दुकानदार (dealer ) को मशीन दीया गया है उस प्रकार भंडार के दुकानदारों को भी मशीन दिया जाये ,जिससे dealer को पूरा -पूरा सामान मिल सके और वह जनता को पूरा सामान वितरण कर सके।

तभी यह system बदलेगा ,नहीं तो सरकारी दलाल इसे चूसते रहेंगे और गरीबों की धन संपत्ति दीमक की तरह चाटते रहेंगे।
आप बदलेंगे ,देश बदलेगा।
देश बदलेगा ,तो संसार बदलेगा।
यह बातें कहने के लिए नहीं है ,कुछ करने के लिए है।

तो दोस्तों आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें comment करके निचे जरूर बताये और इस पोस्ट को जितना ज्यादा हो सके उतना share करें। ताकि सभी जागरूक हो पाए और अपने हक़ को जान पाए।
धन्यवाद।

Pan Card Online Apply Kare


नमस्कार दोस्तों आज हम सीखेंगे कि पैन कार्ड online apply कैसे करे ,और online पैन कार्ड apply करने का सबसे आसान तरीका क्या है।

पैन कार्ड आज हर किसी को जरूरी है , आप यदि बैंक खाता का इस्तेमाल करते है तो आपको पैन कार्ड बनवाना बोहोत ही जरूरी है। ऐसे में आप खुद से भी पैन कार्ड बना सकते है वो भी घर बैठे।

इसके लिए आपको सिर्फ इंटरनेट connection चाहिए।
तो चलिये जानते है कि पैन कार्ड online apply कैसे करते है।

pan card online apply kare
pan card online apply kare


पैन कार्ड online apply करे 

Step :-1  सबसे पहले आप भारत सरकार के website पर जाये , जहाँ पर आपको एक form भरना है।
website :-www.onlineservices.nsdl.com/paam/endUserRegisterContact



Step :-2  यहाँ पर जाने के बाद आपको एक form दिखाई देगा , जिसे आपको भरना है।

Step :-3  अब चलिए इस form को भरते है।
सबसे ऊपर Application Type में - New PAN -Indian Citizen (यदि आप भारत के नागरिक है ) पर क्लिक कर दे।
New PAN -Foreign Citezen (यदि आप भारत के नागरिक नहीं है ) पर क्लिक कर दे।

Step ;-4 Category में Indivisual को चुने।

Step :- 5  अब Application Information में अपना नाम ,date of birth ,email और mobile no भरना है।

Step :- 6  Whether Citizen Of India option में Yes चुने यदि आप भारत के नागरिक है। और No चुने यदि आप भारत के नागरिक नहीं है।

Step :- 7  Captcha Code - जो स्क्रीन में letters हैं उनको भरना है।

फिर submit के ऊपर click कर दे।

Note :- अब आपको एक token no दिया जायेगा जिसे आपको एक कागज में लिखकर रखना है।
यह token no  आपको काम आएगा -जब आपका timeout हो जायेगा , तब आप Register User पे click  कर के वहीँ  से सुरुवात कर पाएंगे।

Step -8  अब Continue with PAN Application Form के ऊपर क्लिक कर दे।

अब एक नया पेज खुलेगा जिसमे आपको आधार  कार्ड का information देना है।
सभी details देने के बाद Next के ऊपर क्लिक करें।

अब आपको country कोड देने के बाद  next के ऊपर क्लिक कर देना है।

Step :-9  अब आपको AO Code डालना है।  आप यदि भारत के नागरिक है तो Indian Citizen के ऊपर क्लिक करे और अपनी State चुन ले।
फिर Next के ऊपर क्लिक कर दे।

Step:-10 अब last में Declaration में अपना नाम और address डालकर submit के ऊपर click कर दे।
आपको अब photo ,signature और आधार कार्ड का zerox देना है।

पैन कार्ड Online Apply करने की  Fees 
इन सभी process को करने के बाद आप debit कार्ड ,internet banking के जरिये payment कर सकते है।
इसके लिए आपसे 107 रुपये लिए जायेंगे।

जब आपका payment पूरा हो जायेगा तब आपको Acknowledgement slip दिया जायेगा।

Acknowledgement Slip Submit करे 

फॉर्म भरने के बाद और पैसे जमा करने के बाद आप अपना acknowledgement slip और proof of identity और address यानि आधार कार्ड का ज़ेरोक्स लेकर अपने नजदीकी पैन कार्ड centre पर जाये।

आप निचे के लिंक के द्वारा अपनी नजदीकी पैन कार्ड centre पता कर सकते है।
Find Pan Card Centre

आपका पैन कार्ड एक महीने में बन जायेगा , जिसकी पुस्टि आपको मोबाइल में sms के द्वारा दे दी जाएगी।
आप अपने पैन कार्ड की स्थिति भी जान सकते है -उसके लिए आप sms कीजिये
NSDLPAN '15 digit aknowledgement no. ' to 57575

तो दोस्तों ये थी जानकारी कि कैसे आप online पैन कार्ड apply कर सकते हैं। मुझे उम्मीद है आपको ये जानकारी जरूर पसंद आई होगी।

आप अपने दोस्तों को भी ये पोस्ट शेयर कर सकते है -जिससे वो भी ऑनलाइन पैन कार्ड apply कर सके।





पैन कार्ड का correction कैसे करे


नमस्कार दोस्तों , आज हम सीखेंगे कि पैन कार्ड का correction कैसे करते है , यानि यदि आपके पैन कार्ड में कोई गलती हो गयी है जैसे -
पैन कार्ड में date of birth गलती हो गयी है। 
पैन कार्ड में address गलती हो गयी है। 
पैन कार्ड में name गलती हो गयी है। 
तो आप ऐसी पैन कार्ड से related problem को कैसे ठीक करेंगे। उसके लिए आप इस पोस्ट को आगे पढ़ते रहिये। 

pan card correction kare
pan card correction kare


पैन कार्ड का correction करे 
यदि आपके पैन कार्ड में कोई गलती आ गयी है और आप उसका correction करना चाहते है तो आप उसे internet से online उस गलती को सुधार सकते है। उसके लिए आपको सिर्फ एक फॉर्म भरना है। जिसकी जानकारी निचे दी गयी है।

Step:-1 सबसे पहले आप भारत सरकार के website पर जाये ,जहाँ पर आपको form दिया जायेगा pan card correction के लिए।
website :-www.onlineservices.nsdl.com/paam/endUserRegisterContact



Step -2  इस website में जाने के बाद आपको एक form दिखेगा , जिसे आपको भरना है।

Step :- 3  सबसे पहले Application Type में जाये और तीशरा option चुने।
जो है - Changes or Correction in existing Pan Data .

Step :-4  Category में Indivisual को चुने।

Step :- 5  अब Application Information में अपना नाम ,date of birth ,email और mobile no भरना है।

Step :- 6  Whether Citizen Of India option में Yes चुने यदि आप भारत के नागरिक है। और No चुने यदि आप भारत के नागरिक नहीं है।

Step :- 7  Captcha Code - जो स्क्रीन में letters हैं उनको भरना है।
फिर submit के ऊपर click कर दे।

Note :- अब आपको एक token no दिया जायेगा जिसे आपको एक कागज में लिखकर रखना है।
यह token no  आपको काम आएगा -जब आपका timeout हो जायेगा , तब आप Register User पे click  कर के वहीँ  से सुरुवात कर पाएंगे।

Step -8  अब Continue with PAN Application Form के ऊपर क्लिक कर दे।

अब एक नया पेज खुलेगा जिसमे आपको pan कार्ड और आधार कार्ड का information देना है।
सभी details देने के बाद Next के ऊपर क्लिक करें।

फिर एक नया पेज खुलेगा जिसमे आपको आधार कार्ड का image upload करना है।
और signature का image upload करना है।

Note :-Aadhar  और signature का image size photoshop से 135 ⅹ 165 px कर ले फिर उसको upload करें ।

अब उसके बाद Submit के ऊपर click कर दें। फिर आपको आधार कार्ड के अनुसार आपका पैन कार्ड correction हो जायेगा।

Enjoy ........







Jan Dhan Account Ko General Saving Account Me Transfer Kare


नमस्कार दोस्तों ,आज हम जानेंगे कि जन धन account को General saving account में transfer कैसे करते है और इसके लिए किन चीजों की जरुरत होती है।

प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत बहुत तेज़ी से जन धन खाता खोले गए ,इसका परिणाम यह हुआ कि करोड़ो की संख्या में नया खाता खुला।  लेकिन इन खातों में जनता को बहुत सी सुविधा नहीं दी जा रही है। जिसके चलते लोग जन धन account को general saving account में transfer करना चाहते है।

jan dhan account ko saving account me transfer kare
jan dhan account ko saving account me transfer kare


क्यों करे जन धन account को general saving account में transfer 

  • पासबुक देरी से मिलना। 
  • ATM देरी से मिलना। 
  • 1 दिन में 20,000 से ज्यादा की राशि आप नहीं निकाल सकते। 
  • और ATM से 10,000 से ज्यादा नहीं निकाल सकते। 
  • Internet Banking की सुविधा नहीं दी जाती। 
  • जन धन खाते का branch transfer नहीं होता। 
  • Check जमा नहीं होता है। 
  • इसके और भी कई नुकसान और कुछ ही फायदे है 


जन धन Account को General saving  account में transfer करे 

यदि आप जन धन खाता को सेविंग खाता में transfer करवाना चाहते है तो निचे दी गयी जानकारी को follow करे।

 सबसे पहले आप अपना जन धन खाता बंद करें। जिसकी जानकारी निचे दी गयी है कि कैसे आप जन धन account को बंद करेंगे।
*Jan Dhan Account Ko Band Kaise Kare

*Jan Vitran Pranali Ki Jankari Sachayi  जन धन Account को उसी बैंक में saving account खोले। 
जिस branch  में आपका जन धन खाता है , उसी के मेन branch   में आपको General saving account खोलना है तो निचे दी गई जानकारी को follow करें।

1. जन धन खाता बंद करने के बाद ,सबसे पहले आप branch में जाइये और एक नया खाता खोलने का form लीजिये।
( ध्यान रखिये खाता खोलने के अलावा दूसरा form नहीं लीजियेगा , आपको insurance के लिए भी बैंक वाले फॉर्म attach करके दे देते है। )

2. form को भरने के बाद , aadhar कार्ड का zerox attach कर दीजिये। और आधार कार्ड के ज़ेरोक्स पर अपना sign भी कर दीजिये।

3. एक कागज़ पर आप जन धन खाता का account number और cif और ifsc code लिखकर ले जाइएगा।
जो की आपके जन धन खाते के पासबुक में होगा।

4. साथ में original आधार कार्ड ,पैन कार्ड और 2 पासपोर्ट size फोटो लेकर जरूर ले  जाइएगा।
यदि पैन कार्ड नहीं है तो कोई बात नहीं सिर्फ आधार कार्ड से भी हो जायेगा।

5. अब form को मैनेजर के पास जमा कर दीजिये आपका नया saving account खुल जायेगा।

जन धन account को दूसरे Branch में General saving account खोले। 
जिस ब्रांच में आपका जन धन खाता है और आप दूसरे branch में General Saving Account खोलना चाहते है तो निचे दी गयी जानकारी को follow करें।

1. जन धन खाता को दूसरे branch में Saving account खोलने के लिए आपको सबसे पहले तो अपना जन धन खाता बंद करना होगा।
Jan Dhan Account Band Kare



2. अब आपको जन धन खाते का CIF transfer करवाना होगा। CIF ट्रांसफर करवाने से जन धन अकाउंट को दूसरे ब्रांच के द्वारा नया account खोलने दिया जाता है।

CIF transfer कैसे करे 

CIF transfer करवाने के लिए 2 चीजों की जरुरत पड़ती है।
1. Application
2.  आधार कार्ड का zerox



cif transfer application
cif transfer application 


3. अब इन दोनों को जन धन योजना के मेन ब्रांच में जाकर जमा कर दे और कहें की हमें CIF transfer करवाना है। फिर आपका CIF transfer हो जायेगा।

4. CIF ट्रांसफर करवाने के बाद , अब आप उस branch में जाइये जहाँ आपको general saving account खोलना है।

5. वहां जाकर नया account खोलने का form लें और उसे भरकर जमा कर दें। फिर आपका नया general saving account खुल जायेगा।

नोट -

  • एक कागज़ पर जन धन अकाउंट का account नंबर और cif  लिखकर ले जाये। 
  • Original आधार कार्ड भी लेकर जाये। 
  • यदि पैन कार्ड है तो उसे भी लेकर जाये। 
  • साथ में 2  passport size फोटो भी लेकर जाये। 
  • नए खाते में कम से कम 3000  रुपये जमा कराये , नहीं तो हरेक महीने पैसे कटते रहेंगे। 


तो दोस्तों ये थी जानकारी कि कैसे आप जन धन खाते को General saving account में transfer करते है। यदि आपका कोई सवाल या कोई सुझाव है तो आप हमें निचे जरूर comment करे।

और यदि इस पोस्ट की जरुरत आपके दोस्त को है तो आप इसे share भी कर सकते है।
धन्यवाद।

ये भी जाने :-
*SBI me Branch Transfer Kaise Kare

*Bank Ke Sabhi Application Hindi Me

*SBI Internet Banking Kaise Kare

*Apni Man-Pasand Naukri Kaise Dhundhe

English में Application कैसे लिखे


English  में  Application कैसे लिखे 

दोस्तों आज हम सीखेंगे कि English में application कैसे लिखे , English में application लिखने का तरीका क्या है ? format क्या है ?
और यदि आप English भाषा को अच्छी तरह से नहीं जानते है , तो भी आप इस post के  द्वारा आसानी से application लिखना सिख सकते है।

English में application का Format 

English में application लिखने के लिए application के format को जानना बहुत  जरूरी होता है।

चाहे कोई भी application हो ,यदि आपको format पता रहेगा तो आप कोई भी application आसानी से लिख सकते है।

जिसकी जानकारी निचे दी गयी है।

english me application kaise likhe
english me application kaise likhe



1. अपना पता लिखे -

आप ऊपर के तस्वीर में देख सकते है कि  किस तरह से लिखा हुआ है।
यदि आप बैंक में application लिख रहे है तो आप phone number दे ,और दूसरे application में phone number की जरूरत नहीं होती।

आप From , के बाद सिर्फ अपना नाम और पता लिख सकते है।
और आपका पता (address ) छोटा होना चाहिए , आपको अपना फुल address नहीं देना है।
जैसे -
From ,
            Sumit Mahato
            Bank More , Dhanbad
         
2. देने वाले का पता - 

जिसको आप application दे रहे है उसका पता लिखना है।
यदि आप बैंक में लिख रहे है तो The Bank Manager , स्कूल में दे रहे है तो The Principal .
फिर Address लिख दे।
जैसे -
To ,
      The Principal
      D.A.V  Public School
       ( Dhanbad )

3. Subject लिखना है -

यानि आप application क्यों लिख रहे है ? वह लिखना है।
जैसे -
Transfer of Saving Account
Application for leave
For mobile number registration.

4. Message- 

यहाँ आपको अपना संदेश लिखना है।  यह संदेश जितना कम शब्दों में हो उतना ही अच्छा है।
Grammar पर यहाँ आप ध्यान रखे।

शुरुवात में आप कुछ इस तरीके के sentence का इस्तेमाल कर सकते है
जैसे -
Most humbly and respectfully that,
I solicit that I could not attend my classes
With due respect,I want to say that

और अंत में thankful sentence add करे।
जैसे -
Kindly transfer my bank account, I will always thankful to you.
Kindly grant my application , I will be highly obliged to you.

5. Sign and Date-

अब आपको अपना sign करना है और date डालना है।
यदि आप school के लिए application लिख रहे है तो आप
Your Obedient Student ,
Your faithfully
के बाद अपना नाम , roll no या जरूरी चीजें लिख सकते है और sign कर सकते है।



कुछ जरूरी बातें -

हमेशा कोशिश करे कि application neat and clean हो। इससे  पढ़ने वाले के ऊपर अच्छा impression पड़ता है।
जितना हो सके application को कम शब्दों में लिखने की कोशिश करे , क्यूंकि किसी के पास उतना समय नहीं रहता है और application का मतलब ही होता है low word more information .

तो दोस्तों ये थी जानकारी कि आप English में application कैसे लिख सकते है।
मुझे उम्मीद है की ये जानकारी आपको जरूर मदद करेगी।
यदि आप चाहे तो इस जानकारी को अपने दोस्तों को share कर सकते है जिनको इसकी जरूरत हो।
और इसे facebook ,twitter में भी share कर सकते है।
धन्यवाद।
ये भी जाने :-
*Hindi Me Application Kaise Likhe

*All Bank Application in Hindi

*Rakshabandhan Tyohar Ka Asli Matlab

*Google Me Job Search Kare- Man Pasand Naukri Dhundhe



Bank Account Ko Aadhaar Card Se Jode


आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से जोड़ना अब आसान हो गया है , भारत सरकार ने आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से जोड़ने के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान कर रही है।  जिसके जरिये आप बिना बैंक गए आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से जोड़ पाएंगे।

आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से जोड़ने के फायदे 

यदि आप आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से जोड़ते हैं तो इसके कई लाभ होने वाले हैं। 

आपके LPG, Kerosene, Sugar आदि की सब्सिडीटी आपको डायरेक्ट बैंक अकाउंट में दे दिया जायेगा। 

भारत सरकार की जितनी भी योजनाए आ रही है उसका डायरेक्ट फायदा आपको आपके अकाउंट में दे दिया जायेगा। जैसे -आवास योजना के लिए पैसे ,क्षात्रवृत्ति के लिए पैसे , विद्यार्थियों के लिए पैसे , पेंशन्स ,और भी सभी योजनाओं का फायदा अब डायरेक्ट आपके बैंक अकाउंट में भेजा जायेगा। 

भ्रष्टाचार के ऊपर रोक लगाने में सहायता होगी। 
आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से जोड़ने पर आपका बैंक अकाउंट सुरक्षित हो जाता है और किसी भी तरह की धोखाधड़ी होने का सवाल ही नहीं पैदा होती । 

आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से जोड़ने पर आपको फिर किसी चीज की परेशानी नहीं होगी ,कुछ भी नया नियम बैंक में लागु होगा तो वह आपको बड़ी आसानी से हो जाएगी।

Bank Account ko aadhar card se jode
Bank Account ko aadhar card se jode


Ye bhi jane:-
Jan Dhan Account Ko Transfer Kare Saving Account Me

ऑनलाइन आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से कैसे जोड़े 

यदि आप ऑनलाइन आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से जोड़ना चाहते हैं तो अपने पास आधार कार्ड ,बैंक पासबुक और रजिस्टर्ड मोबाइल लेके तैयार हो जाये। 

अब आप निचे में दिए गए लिंक के ऊपर क्लिक करे , इसमें क्लिक करते ही आपको एक नया पेज खुलेगा। 
जिसमे आपको अपने डिटेल्स देने है। मैं यहाँ पर SBI बैंक के बारे में बता रहा हूँ। यदि आपका अकाउंट दूसरे बैंक में है तो आप गूगल में जाकर अपने बैंक का नाम लिखे। 
1.  पर्सनल बैंकिंग के ऊपर क्लिक करे। एक नया पेज खुलेगा। 

2. यहाँ पर आप देख सकते हैं कि इंटरनेट बैंकिंग से आपको क्या -क्या फायदा होगा। 



3. या लॉगिन के ऊपर क्लिक करे। फिर continue login के ऊपर क्लिक करें। 

4  अब 1 पेज ओपन होंगे जिसमे आपको SBI में नया अकाउंट बनाना है।  यदि आपका पहले से इस वेबसाइट में अकाउंट है तो यूजरनाम  और पासवर्ड डाल के लॉगिन कर ले। और नहीं है तो create नई account के ऊपर क्लिक कर दे। 

5. अब फिर एक पेज ओपन होगी जिसके आपको आपके बैंक अकाउंट के डिटेल्स भरने है , जिसकी जानकारी आपके पासबुक में है। 
और अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर भी दें। फिर आपके मोबाइल में एक OTP मैसेज आएगा जिसको आपको भरना है। 

6. अब सबमिट के ऊपर क्लिक कर दे और तब फिर एक नया पेज खुलेगा , वेरिफिकेशन के लिए जिसमे आपको atm की जरूरत पड़ेगी। 
यहाँ पर आपको आपके एटीएम का डिटेल्स देना है और फिर सबमिट के ऊपर क्लिक कर देना है। और अब आपकी अकाउंट बन गयी है। आप अपना पासवर्ड अब चुन सकते है।  फिर आपके मोबाइल में एक मैसेज आएगी जिसमे आपका username और  रहेगा। 

7. अब आपको दोबारा से अपना लॉगिन करना है , जिसके लिए आप निचे दिए गए लिंक के ऊपर क्लिक कर दे।  SBI INTERNET BANKING

8. अब आप personal banking  में login  के ऊपर क्लिक कर दीजिये। 
फिर continue login  के ऊपर क्लिक कर दीजिये। 
अब आप यहाँ पर वही username और जो password  दिए थे वो डालिये  । 

9. अब आपको अपना एक username चुनना है फिर चाहे तो आप अपने पासवर्ड को भी बदल सकते है। 

10 . अब आपको अपने प्रोफाइल का पासवर्ड भी चुनना है यह पासवर्ड आपके लॉगिन पासवर्ड से अलग होना चाहिए। 
11. तो अब आपका SBI में अकाउंट बन गया है और आप नेट बैंकिंग कर सकते हैं। आप अपना transaction right भी बदल दे आप अपने account number के ऊपर क्लिक करे और full transaction के ऊपर क्लिक कर दे। 

12. अब आपके बैंक अकाउंट को आधार से लिंक करना है इसके लिए आप My Account के ऊपर क्लिक करे फिर link your aadhaar number पर क्लिक कर दे.
अब एक पेज ओपन होगी जिसमे आपको अपना आधार नंबर डालना है और बस हो गया आपका बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक।

आप चाहे तो बैंक में जाकर भी जोड़ सकते है ,और ATM के द्वारा भी जोड़ सकते है।

ATM के द्वारा बैंक अकाउंट को आधार कार्ड से जोड़े। 

  1. सबसे आसान है ATM के द्वारा आधार कार्ड को बैंक से जोड़ने का। 
  2. इसके लिए आप sbi के atm जाइये। 
  3. अपना कार्ड swipe कीजिये। 
  4. फिर अपना password डालिये। 
  5. menu खुल जायेगा -इसमें आप service पर जाइये। 
  6. अब आप aadhar  registration पर क्लिक कर दीजिये। 
  7. अब आप अपना आधार संख्या डालिये। 
  8. बस हो गया आपका आधार आपके बैंक अकाउंट से लिंक। 


ये भी जाने :-
*SBI Me Branch Transfer Kaise Kare

*Bank Ke Sabhi Application Hindi Me

*Hindi Me Application Kaise Likhe

*Make in India in Hindi

हिंदी में Application कैसे लिखे


हिंदी में  Application कैसे लिखे 

हम आज इस post के द्वारा सीखेंगे  कि हिंदी में application कैसे लिखते है और हिंदी में application लिखने का तरीका क्या है ।

मैं आपको application लिखने का सबसे आसान तरीका और सबसे सही तरीका बताने वाला हूँ।
इस तरीके से आप किसी को भी application लिख पाएंगे और आपको कोई परेशानी भी नहीं होगी।

मैं सबसे पहले आपको एक photo के द्वारा दिखा देता हूँ , कि हिंदी में application लिखने का क्या format है।

hindi me application kaise likhe
hindi me application kaise likhe




तो आप इस photo को देखकर समझ सकते है कि आपको application कैसे लिखना है।
अब चलिए बात करते हैं application लिखने के  process की।

Hindi Me Application Likhne Ka Process

1. इसमें सबसे पहले आता है Salutation यानि अभिवादन। जैसे हम किसी से मिलते है तो नमस्कार या प्रणाम करते है ,उसी तरह application लिखते समय हम सबसे पहले अभिवादन का प्रयोग करते है।

इसमें सबसे पहले regard देकर लिखते है - सेवा में ,
फिर लिखते है application देने वाले का नाम और पता - जैसे शाखा प्रबंधन ,प्राचार्य महोदय ,स्वास्थ मंत्री इत्यादि।
और इसके निचे  पता लिखा जाता है जैसा की photo में दिया हुआ है।

अब आता है विषय - यानि आप application क्यों दे रहे हैं उसके बारे में लिखना है।
जैसे- खाता बंद करने के लिए, नौकरी के लिए ,छुट्टी के लिए इत्यादि।
अब अंत में लिखना होता है -महोदय या महाशय ,

2. दूसरे में आता है message यानि सन्देश -कि आप क्या सन्देश भेजना चाहते है। आप सन्देश कम शब्दों में लिखने की कोशिश करे और साफ़ -साफ़ लिखे ताकि आपकी जानकारी application पढ़ने वालों को स्पस्ठ समझ में आये।

message यानि सन्देश के शुरुवात में - "सविनय निवेदन है कि " इस शब्द का इस्तेमाल जरूर करे।
इससे application पढ़ने वाले को सम्मान दिया जाता है और आदर भी।

3. Thank You message - यानि धन्यवाद सन्देश जो की आप फोटो में देख सकते है।

4. date यानि तारीख देना।

5. अपना पता दे
इसमें सबसे ऊपर आपका विश्वासी के बाद अपना पद लिखे।
जैसे -आपका विश्वासी क्षात्र ,आपका विश्वाशी कार्यकर्ता इत्यादि।

अब अपना नाम ,पता ,मोबाइल न० , a /c  न ० , roll no ,जो जरूरी है अपने अनुसार दे।
अब आप अपना sign कर दे।

तो दोस्तों ये थी जानकारी कि आप हिंदी में application कैसे लिख सकते है।



Application के लिए जरूरी बातें। 
Application लिखते समय कोशिश करे की application साफ़ और आसानी से समझ में आने योग्य हो।
Overwriting नहीं किया हुआ हो।

कम से कम शब्दों का  इस्तेमाल हुआ हो -क्यूंकि आज किसी के पास उतना समय नहीं है कि वो आपके लम्बे application को पढ़े। और application का नियम कहता है कि कम शब्दों में अधिक जानकारी।

तो मित्रों ये थी जानकारी कि कैसे आप आसान तरीके से application कैसे लिखते है।
मुझे उम्मीद है कि  आपको यह जानकारी जरूर पसंद आयी होगी। यदि आपका कोई सवाल या कोई सुझाव है तो हमें निचे जरूर comment करके बताये।

और आप हमारी मदद करना चाहते है तो इस post को जरूर अपने दोस्तों को facebook ,twitter ,watsapp में share करे ,जिससे और लोगों को भी जानकारी मिल पायेगी।

धन्यवाद।
ये भी जाने :-
*English Me Application Kaise Likhe

*All Bank Application in Hindi

*SBI Me Branch Transfer Kare

*Google Me Apni Man Pasand Naukri Dhundhe

*PM Jan Dhan Yojana ke Fayde aur Nuksan

रक्षाबंधन त्यौहार का महत्व और सिख


मैं आज आपको इस post के द्वारा रक्षाबंधन के रीती और रिवाजों के बारे में नहीं बताऊंगा बल्कि वह गहरी जानकारी देने वाला हूँ ,जो आपको रक्षाबंधन से प्रेरणा देगी और आपके त्यौहार मनाने के सोच को बदल कर रख देगी।

rakshabandhan ka matlab
rakshabandhan ka matlab
.


हम रक्षाबंधन कैसे मनाते है ?

हम अभी इतना ही करते है -की बहन अपने भाई के हाथों में राखी बांधती है ,फिर भाई उसको छोटा सा उपहार दे देता है ,और फिर त्यौहार ख़त्म।

लेकिन जब आप इस त्यौहार को गहरायी से समझेंगे ,तब आपका नजरिया कुछ और ही होगा।

रक्षाबंधन त्यौहार का महत्व और सिख

इस त्यौहार के 2 नाम है।
रक्षाबंधन और राखी।
रक्षाबंधन =रक्षा +बंधन। 
यानि यह त्यौहार आपको रक्षा भी करती है और आपको बंधन में रिस्ते में बांधती भी है।

लेकिन प्रश्न यह उठता है कैसे ?
क्या सिर्फ 1 धागा बांधने से किसी की रक्षा बढ़ जाती है ? नहीं। ,नहीं बढ़ती है।


तो फिर क्या होता है कैसे रक्षाबंधन से रक्षा होती है ?

तो इसका जवाब है इस त्यौहार का नाम यानि राखी।
राखी = पवित्रता। 
यह सिर्फ एक धागा नहीं है ,बल्कि पवित्रता का धागा है ,सम्बन्ध है ,जो भाई और बेहेन के जीवन में होती है।
दरहसल यह पवित्रता की शक्ति ही भाई -बहनो को बंधन में बांधती है और उसकी आयु बढाती है।

इसको आप ऐसे भी समझ सकते है।
Purity से होती है Unity - और Impurity से होता है विनाश।
यानि जहाँ पवित्रता होती है ,वहां संगठन जरूर होगा ,और उस संगठन में प्यार जरूर होगा। और इसका just उल्टा , जहाँ पवित्रता नहीं वहां प्यार नहीं तो संगठन की बात ही छोड़ दीजिये।

उसी तरह भाई और बहन का भी रिस्ता है -जो पवित्रता के डोर से बंधा हुआ है उसी डोर का नाम है राखी। कोई 10 रुपये के धागे का नाम राखी नहीं है ,इसी पवित्रता की बात है।

इसका सम्बन्ध ऐसा है कि इनको हर कदम रक्षा करती है। यह आपको back support देती है। जिससे आपकी मुश्किल आसान हो जाती है। यह बोहोत बड़ा त्यौहार है ,इसे सिर्फ धागा बांधने तक सिमित ना रखे।
क्यूंकि यह मानवजाति को संदेश देती है कि प्यार का मतलब कुछ और है जो भाई -बहनों में होती है।
यह ऐसा त्यौहार है जो आपको ज़िन्दगी भर मदद करती है।
यदि आपको यह जानकारी पसंद आया हो तो आप इस जानकारी को और लोगों तक पहुँचाने में मेरी मदद कर सकते है।
आप इसे facebook ,twitter ,watsapp पर share करे।
और आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें comment करके जरूर बताये.

Gyan Shivbaba murli dwara.
www.pbks.info

यह भी जाने :-
*Dukh Kya Hai-Yaad se dukh hota hai to kya kare

*Kamyabi Ka RAasta -Chanakya

*Apne Indriyon Ko Kaise Control Kare

*Sharab Ke Nashe Ko Kaise Chore

Joint Account के लिए Bank Manager को Application



joint account ke liye application
joint account ke liye application

इस post में मैंने joint account के लिए application लिखा है।
यह application सरल हिंदी भाषा में है। और सभी बैंकों के लिए मान्य है।
आप इस page को bookmark भी कर सकते है ,ताकि बाद में आपको यह page ढूंढने में परेशानी ना आये।
bookmark करने लिए आप Ctrl +D दबा के कर सकते है।



सेवा में ,
                 श्रीमान शाखा प्रबंधक 
                 (बैंक का नाम , पता )
                 विषय - खाता संलग्न कराने हेतु । 
                 महाशय ,
                                सविनय निवेदन है कि मैं (अपना नाम लिखे ) आपके बैंक का एक खाताधारी हूँ। 
मैं अपने खाते के साथ  अपनी पत्नी (नाम लिखे ) का खाता जोड़ना चाहता हूँ।
जिसकी जानकारी है -
पत्नी का नाम -
पता -
पैन कार्ड न० -
                           अतः श्रीमान से निवेदन है कि आप हमारे खाते के साथ  हमारी पत्नी का अकाउंट  जोड़ दे और उन्हें पासबुक ,ATM , देने का कृप्या प्रदान करें। इसके लिए हम सदा आपके आभारी रहेंगे।

                                    
                        दिनांक (              )    
                                                                                       आपका विश्वासी। 
                                                                                     नाम           - (अपना नाम लिखे )
                                                                                    A /C  no.    - (अकाउंट नंबर लिखे )
                                                                                    मो               - (मोबाइल no  )
                                                                                      (Sign करें )