Hindi Kahani-लालच बुरी बला है- कहानी Se Sikh


नमस्कार दोस्तों आपका AnekRoop में स्वागत है। आज हम आपके लिए एक और कहानी लेकर के आये हैं। यह कहानी लालच के ऊपर आधारित है। लालची व्यक्ति का क्या परिणाम होता है और कैसे उसकी पतन होती है उसके ऊपर यह छोटी सी मज़ेदार कहानी है।

hindi kahani se sikh
hindi kahani se sikh
हिंदी कहानी - लालच बुरी बला है।  

एक लालची राजा समसेर गिरी। कहने में तो वीर लेकिन बोहोत  ही लालची। उसके दरबार में एक विदेशी सोना खरीदने को आता है। राजा को सौदा मंजूर हो जाता है , पैसों की लेन-देन के बाद सोना विदेश भेजने की तैयारी होती है।

लेकिन आधे रस्ते में ही राजा के सैनिक गुप्त भैस में सोने को लूट लेते हैं और विदेशी सिपाही को मार देते हैं। वह अपने हरेक विदेशी कारोबारी के साथ ऐसा ही परिणाम करता है।
राजा के पास बुद्धि तो है लेकिन वह अपनी बुद्धि गलत कामों के लिए इस्तेमाल करता है। वह राज्य के सभी बेरोजगार लोगों को सोने के खदानों में काम करने के लिए रखता है लेकिन काम का सही दाम उन्हें नहीं दिया जाता है।

एक बार दूर देश का राजा ( विलियम ), राजा समसेर गिरी से व्यापार करने को आता है। व्यापार के बहाने वह दरहसल सोने की खदाने देखना चाहता है।
सोने की खदानों को देखकर दूर देश का राजा दंग रह जाता है -इतना ज्यादा सोना और इतने ज्यादा लोग। वह राजा को कहता है कि हम आपके सोने से बोहोत खुश हैं और इस सोने को हम 3 गुना भाव देकर भी खरीद लेंगे। लेकिन पुरे पैसे तो हम नहीं लाये हैं सोना पहुँच जाने पर हम आपको इसके 3 गुना पैसे देंगे।

raja ki kahani
लालची राजा समसेर गिरी बोहोत खुश हो जाता है - 3 गुना पैसे - आ...... हा..... हा। इधर सोने को भेजने की तैयारी होती है वहीँ दूर देश का राजा खदानों में काम कर रहे लोगों को उकसाने लगता है :-

वह कहता है - इतना ज्यादा काम और इतने कम बेतन, हमारे राज्य में तो इससे 10 गुना बेतन मिलते हैं। कुछ खदान के सिपाही विदेशी राजा से प्रभावित हो जाते हैं।

अब सोना भेजने की तैयारी होती है , और दूर देश में सोना सुरक्षित पहुंचा दिया जाता है क्योंकि पैसे 3 गुना मिल रहे हैं तो लूट-पाट की बात ही नहीं है। फिर 3 गुना पैसे सिपाही को दे दिए जाते हैं।


दूर देश का राजा कहता है - सिपाही से :- कि ये पैसे आप रख लो , राजा को मत देना , उन्होंने आपको दिया ही क्या है ? आप मेरे लिए काम करो मैं आपको इन्साफ दिलाऊंगा और आपके काम का आपको सही कीमत दूंगा। जैसा की आप हमारे राज्य में देख सकते हैं।

hindi kahani lalach buri bala hai



सभी सिपाही दूर देश के राजा के साथ हो जाते हैं और राजा समसेर गिरी पर आक्रमण करते हैं। और फिर दूर देश के राजा का राज्य शुरू हो जाता है फिर सारे सोने के खदान दूर देश के राजा विलियम के हो जाते हैं। लोगों को उनके काम के अनुसार बेतन दिया जाने लगता है। लोग ख़ुशी मनाने लगते हैं।

कहानी से सिख :- इस कहानी से हमें यही सिख मिलती है कि लालच के कारन हमें लोगों के साथ गलत नहीं करना चाहिए। लोगों को उनकी मेहनत के अनुसार मूल्य देना चाहिए। अपनी बुद्धि का गलत इस्तेमाल नहीं करना चाहिए नहीं तो हमारे अपने ही दुसमन बन जायेंगे और कमाया दौलत , मान-मर्तबा सब चला जायेगा।
(यदि कोई व्यक्ति लालची भी है और बुद्धिमान भी है तो वह समाज के लिए बोहोत खतरनाक साबित हो सकता है ऐसे व्यक्ति से आप सदा बच कर रहे )

तो यह थी सिख की हिंदी कहानी। मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको इस कहानी से जीवन के कुछ सिख मिले होंगे। कहानी कैसा लगा हमें comment करके जरूर बताएं।


और इस पोस्ट को जरूर अपने दोस्तों तक फेसबुक ,watsapp में शेयर करें।
अपना बहुमूल्य समय देकर इस कहानी को पढ़ने के लिए आपका बोहोत-बोहोत धन्यवाद। 

Share this

Never miss our latest news, subscribe here for free

Related Posts

Previous
Next Post »