Bank Me Paise Rakhne Se Fayda Ya Nuksan


नमस्कार दोस्तों आपका AnekRoop में स्वागत है। आज हम जानेंगे कि बैंक में हम पैसे रखते हैं तो उससे हमें फायदा होता है या नुकसान होता है। और यदि फायदा या नुकसान होता है तो कितना फायदा -नुकसान होता है। भविष्य में बैंकों की हालत क्या होने वाली है ? और सबसे जरूरी चीज़ कि यदि हम बैंकों में पैसे नहीं रखते हैं तो फिर हम अपने पैसे कहाँ सुरक्षित रख सकते हैं ?

 आज का post कुछ ख़ास होने वाला है , कुछ रोचक बातों को हम जानेंगे जो बैंक वाले आपसे छुपाते हैं और कुछ analysis भी करेंगे जिससे की आपका पैसा grow करे।

pmc bank me narebaji
bank me paise rakhna fayda ya nuksan
.
बैंक में पैसे रखना फायदा या नुकसान। 

आप सोच रहे होंगे कि बैंक में पैसे रखने से नुकसान कैसे होता है ? तो जवाब सुन लीजिये कि नुकसान होता है।
इससे पहले कि मैं आपको कुछ बताऊँ मैं आपको कुछ उदाहरण देना चाहता हूँ जिससे कि आपको अच्छे से समझ में आ सके।

#1 HDFC बैंक के Chairman दीपक पारेख की बयान।

दीपक पारेख - जिस तरह से बड़ी-बड़ी कंपनियों को लोन देकर उसे माफ़ किया जा रहा है और आम व्यक्ति के पैसों का ब्याज घटाया जा रहा है , इससे आम लोगों का भरोषा बैंकों के प्रति नाकारात्मक होते जा रही है।
हमारे पास उनके पैसों को सुरक्षित रखने का कोई system नहीं है, जिससे कि हम उन्हें भरोसा दिला सके कि आपका पैसा सुरक्षित है।

उन्होंने कहा कि भरोषा जितने में वर्षों लग जाते हैं लेकिन भरोषा तोड़ने में 1 सेकंड भी नहीं लगते। हम आम लोगों के पैसों का misuse करके उन्हें सड़कों पर आंदोलन करते नहीं देख सकते। यदि देश का विकाश चाहिए तो आम लोगों की savings जरूरी है। जो की 30% से घटते जा रही है।
(आप उनका बयान youtube पर deepak parekh on bank scam सर्च करके देख सकते हैं। )

#2  SBI बैंक में हो रही धोखाधड़ी।

RTI के एक report के मुताबिक 76000 करोड़ रुपयों के लोन को बैंक ने माफ़ कर दिया है। यह लोन 200 बड़े कंपनियों को दिया गया था जिसे बैंक वाले वसूलने में असमर्थ रहे।
तो अब आप बताइये कि ये रुपये किनके थे ? जिसे बैंक ने लोन में दिया था ? ये आपके पैसे थे , हमारे पैसे थे।

और पिछले 3 सालों में 2 लाख 41 हज़ार करोड़ वसूलने में असमर्थ रहे जिन्हे माफ़ किया गया। (1000 लोगों का )
और किसानों का 2 लाख 21 हज़ार करोड़ माफ़ किया गया।

किसानों का तो समझ में भी आता है , लेकिन निजी कंपनियों का पैसा  कोई कैसे बैंक वाले माफ़ कर सकते हैं ?
इससे साफ़ पता चलता है कि अब बैंकों के नाम पर हमारे पैसों को लुटा जा रहा है। पहले तो वे लोग कहते हैं कि हम पैसों को recover करने में असमर्थ रहे , तो हमारे ब्याज को कम कर देते हैं और जब पैसे recover हो जाते हैं तो बैंक वाले वो पैसे आपस में बाँट लेते हैं। कुछ पैसे बैंक वाले खाते हैं , कुछ politician खाते हैं और कुछ कंपनी वाले खाते हैं। और ऐसे यह बैंकों के लूट का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है।

और यदि सभी बड़ी कंपनियां डूब जाती है जिसे बैंकों से लोन मिला है तो ऐसी स्थिति में आपके द्वारा जमा पैसे भी आपको नहीं मिलेंगे। सिर्फ 1 लाख रुपये ही आप निकाल पाएंगे।
क्योंकि 1 लाख से अधिक की guarantee बैंक वाले नहीं लेते हैं।

मैं एक video का लिंक निचे दे रहा हूँ जिसे आप देख करके और अच्छे से समझ सकते हैं।
#3 PMC बैंक ने हज़ारों लोगों का पैसा डुबोया।

जब हमें हमारे हक़ के पैसे नहीं मिलते तब सबसे ज्यादा गुस्सा आता है , ऐसा इसलिए भी क्योंकि गुस्से के अलावा हमारे पास और कुछ बचता भी नहीं है।
PMC ( Punjab and Mumbai Co-Operative Bank ) के घोटाले के बारे में आपने सुना ही होगा।
बिलकुल ऐसा ही हुवा कि लोगों के हक़ के पैसे उन्हें नहीं दिए जाने लगे। लोगों ने काफी आंदोलन किया , महिला ,बुजुर्ग सभी road पर आये काफी नारेबाजी हुयी , काफी कुछ लोगों ने सहा।

पहले तो 6 महीने में 1000 रुपये ही निकालने को दिया गया। नारेबाजी और ज्यादा हो गयी NDTV India न्यूज़ channel में report भी दिखाई गयी।
RBI ने 1000 से बढाकर 10000 कर दिया फिर कुछ दिनों के बाद 25000 कर दिया गया। तो ऐसे ये हमारे पैसों को रोकने लगे हैं।

पहले तो खुद गलती करके सिर्फ 1 ही कंपनी को 6500 करोड़ रुपयों का लोन देते हैं और उसे जब नहीं वसूल पाते हैं तो फिर हमारे पैसों को रोक देते हैं , हमें हमारे हक़ के पैसे निकालने नहीं देते है।
PMC बैंक ने अपने पुरे लोन का 73% HDIL कंपनी को दे दिया जो 6500 करोड़ रुपये थी।

अब इसे आप क्या कहेंगे ?

ये आपके पैसों को लूटने का नया तरीका है। पहले तो कंपनी से पैसे नहीं वसूलने का बहाना करते हैं और फिर बाद में सभी पैसों को आपस में ही खा लेते हैं । वाह जी वाह , ऐसी सफ़ेद कमाई देखि है कही ?
तो मेरे कहने का अर्थ है कि आप सचेत हो जाये , कभी भी आपके पैसे आपको ही निकालने नहीं दिया जायेगा।
दुनिया दिन दुगनी रात चौगुनी बिगड़ रही है। कभी भी कोई कंपनी आगे चली जा रही है तो कोई कंपनी सड़क पर आ रही है।

( आप PMC बैंक के हुयी धोखाधड़ी की कहानी NDTV इंडिया न्यूज़ चैनल में देख सकते हैं जिसका link मैंने निचे दे दिया है )
(ब्याज दर से) - बैंकों में पैसे रखना फायदा या नुकसान ?

यदि हम ब्याज दर (interest rate ) के नजरिये से देखें तो क्या हमें फायदा हो रहा है या नुकसान हो रहा है ?
तो जवाब है कि वहाँ भी नुकसान ही हो रहा है।

तो इसे जरा ध्यान से समझिये कि मौजूदा RBI का inflation 3.50% है वहीँ SBI का ब्याज दर 3.25 % है।
Inflation यानि जीवन जीने की लागत (पैसों ) में बढ़ोतरी।  और यहां साफ़ देखा जा रहा है कि बढ़ोतरी 3.50 % की हुयी है वही ब्याज सिर्फ 3.25 % ही दिया जा रहा है वो भी जिसके पास 1 लाख से कम पैसे है। 1 लाख से अधिक पैसों वाले को और भी कम सिर्फ 3 % ब्याज ही दिया जा रहा है।

यदि इसे एक उदाहरण से समझे तो - 1 लाख रुपये हमारे बैंक में जमा हैं। तो एक साल के बाद उस एक लाख का मुझे 3 % ब्याज के अनुसार 103000 मिलना चाहिए। वहीँ बाजार की value 1 साल के बाद 103500 हो जाती है। यानि 100000 रुपये का जितना सामान हम अभी खरीद रहे हैं उतना ही सामान 1 साल के बाद हम खरीदेंगे तो हमें 500 रुपये अधिक देने होंगे। यानि हमारे पैसे की value कम हो जाती है।

बाजार में महंगाई जिस तरह से बढ़ रही है , उस तरह से बैंक में यदि कोई व्यक्ति पैसे रखता है तो वह बोहोत घाटे में जा रहा है। RBI के अनुसार 3.5 % inflation rate है। लेकिन बाजार को आप देखे तो ये rate कई ज्यादा हैं। आप ऐसी एक भी चीज का नाम नहीं बता सकते तो सस्ती हुई है। सब महंगी होते जा रही है।
सब महँगी हो रही है और आपका पैसा उतना का उतना ही है तो आप धीरे-धीरे गरीब होते जा रहे हैं। आप ज्यादा खर्च नहीं कर पाएंगे जिससे की बाजार में तंगी आएगी और उससे आर्थिक विकाश नहीं होगा।



तो इससे साफ़ हो जाता है कि ब्याज दर से ( interest rate ) से भी बैंकों में पैसे रखना बेवकूफी होगी।

Ye bhi Jane :-
उपाय - अपने पैसों को कहाँ लगाए ?

आप कहेंगे कि हमारे payment तो सभी बैंकों में ही आते हैं , अब बैंक में पैसे नहीं रखे तो फिर कहाँ रखे ?
तो इसका जवाब है आप अपने पैसे बैंकों में रखें लेकिन बैंकों के भरोसे में ना रहे।
कौन बैंक कब दिवालिया घोसित हो जाये इसका कोई भरोसा नहीं है तो आप अपनी security खुद करें।
ऐसी जगह अपना पैसा लगाए जहां आपको भरोसा हो।

जैसे :- कहीं पर कोई जमीन लेकर छोड़ दे क्योंकि जमीन की कीमत तेजी से बढ़ रही है।
किसी कंपनी में निवेश कर सकते हैं जिसपर आपको भरोसा हो।
कोई apartment या घर खरीदकर उसे भाड़े में दे सकते हैं।
ऐसे ही कई उपाय हैं जहां आप अपने पैसों को लगाकर उसे बढ़ा सकते हैं।



Note :- अब ये सारी बात भरोसे पर आकर रूक गई है। आप जरूरत के पैसे अपने घरों में जरूर रखे। कब बाढ़ आ जाये कब कौन सी आफत आ जाये और बैंक सहयोग ना दे पाए तो ऐसी स्थिति में आपको परेशानी ना हो। आप अपने पैसों का इस्तेमाल कर पाए।

इसी के साथ आज का ये post मैं समाप्त करता हूँ। आशा करता हूँ कि आप भी इस पोस्ट को पढ़कर जागरूक हो जाये और लोगों को भी जागरूक करें। यदि आपका कोई सवाल या कोई सुझाव है तो हमें comment करके जरूर बताये।
और इस post को अपने दोस्तों तक, परिवार के लोगों तक  जरूर share करें। इसे आप facebook ,watsapp में भी share कर सकते हैं।
अपना महत्वपूर्ण समय देकर इस post को पढ़ने के लिए आपका बोहोत-बोहोत धन्यवाद।

Share this

Never miss our latest news, subscribe here for free

Related Posts

Previous
Next Post »