Aadhar Card Ka Durupayog Kaise Ho Raha Hai


नमस्कार दोस्तों आपका AnekRoop में स्वागत है।  आज हम आपको सचेत करने के मकसद ये जानकारी देना चाहते हैं। यह जानकारी है आधार कार्ड के बारे में। कैसे आज के समय में आधार कार्ड से online धोखाधड़ी बढ़ रही है ? कैसे लोगों को बेवकूफ बनाया जा रहा है ? कैसे आपके आधार कार्ड से किसी और को mobile  sim दिया जा रहा है ? कैसे आपके आधार कार्ड के details को औरों को बेंचा जा रहा है ? और कैसे आपके आधार कार्ड से आपके ही पैसों को लुटा जा रहा है।

aadhar card ka durupayog
aadhar card ka durupayog
.
आधार कार्ड से online धोखाधड़ी। 

आपको पता होगा कि आधार कार्ड में आपके वो सभी निजी जानकारियां होती है जिससे की कोई भी व्यक्ति आपके बारे में जान सकता है। जैसे - photo , पिता का नाम , address , mobile no इत्यादि।
लेकिन इसके अलावे आधार कार्ड में आपके उँगलियों के स्कैन और आँखों की रेटिना भी होती है। तो इतनी जानकारियां प्राप्त करने के बाद कोई भी व्यक्ति किसी के भी साथ contact कर सकता है और उसे बरबाद कर सकता है।


अब प्रश्न यह उठता है कि Online इसका दुरुपयोग कैसे होता है ?

आपको पता होना चाहिए कि आधार कार्ड से आपके सभी documents link किये जा चुके हैं :-
जैसे - बैंक account , PAN कार्ड , Gas Connection  इत्यादि , और हर जरूरी documents में अब आधार कार्ड माँगा जाता है।
तो जहां-जहां भी आपका आधार कार्ड लिंक है वहाँ का control वो व्यक्ति कर सकता है जिसके पास आपके आधार की जानकारी है।

जैसे :- दुरुपयोगीयो के पास ऐसा software होता है जिससे कि वो पता कर लेते हैं कि आधार कार्ड से कौन-कौन documents लिंक है। जैसे बैंक अकाउंट नंबर। लेकिन उसके आगे access नहीं कर पाते क्योंकि Govt . की website highly secured होती है। तो वो व्यक्ति आपको अलग-अलग तरीके से call करते हैं और आपसे OTP मांगते हैं। वो कभी बैंक मैनेजर बनकर call करेंगे या कभी Minister बनकर call करेंगे।

कहेंगे कि मैं बैंक का Manager बोल रहा हूँ। आपका नाम ....... है। आपकी उम्र,,,,,,,, है,आपके पिता का नाम ,,,,,,,,,है। अभी हम आपके बैंक account को मुख्य-main ब्रांच से लिंक करेंगे , तो आपके मोबाइल में एक OTP जायेगा उसको आपको बताना है। ये process online होती है।

आप भी सोचेंगे कि ये तो ठीक बोल रहा है इसको मेरे बारे में पूरी जानकारी है। तब आप उनको OPT बता देते हैं और फिर आपके सभी पैसे आपके बैंक account से कट जाते हैं और आप कंगाल हो जाते हैं।

ऐसा हज़ारों के तादाद में लोगों के साथ हुवा है यहां तक की राज्य सभा के MP  समसेर सिंह ढिल्लो के साथ भी।
Times Of India के इस report में आप इसे देख सकते हैं।



कैसे आपके आधार कार्ड से किसी और को मोबाइल SIM दिया जा रहा है ?

जब आप दूकान में जाते हैं SIM खरीदने , तो वहां आपसे अंगूठा लगाने को कहा जाता है। फिर आपको SIM दे दिया जाता है। लेकिन जो गलत काम करते हैं वो बोलेंगे कि आपका अंगूठा अच्छे से आया नहीं , जरा फिर से उंगली डालेंगे ? तो जब आप दोबारा उंगली डालते हैं तो फिर आपके नाम से दूसरा SIM लिया जा चूका होता है।

तो इस तरह आपके आधार कार्ड से 2 SIM Issue किये जाते हैं।  एक SIM आपको दिया जाता हैं और दूसरा ऐसे लोगों को दिया जाता है जो crime करते हैं।

तो SIM लेते समय हमेशा इस बात का ध्यान रखे कि 2 बार तो उंगली रखने को नहीं बोल रहा है और दुकानदार को कहे कि मेरे सामने आप SIM Issue कीजिये या फिर trusted दुकान से ही SIM खरीदें।


कैसे आपके आधार कार्ड के Details को औरों को बेंचा जा रहा है ?

हमारी personal जानकारी , जिससे लोगों को लुटा जा रहा है , ऐसी जानकारी उनतक कहाँ से पहुँचती है ? कौन बेचता है हमारी आधार कार्ड की जानकारियों को ?

ऐसी जगह जहां पर आप अपनी आधार की जानकारी देते हैं।
जैसे -आज के mobile wallet , Job के नाम पे आपसे form भराये जाते हैं और आपका आधार नंबर ले लिया जाता है। घरों में survey के नाम पर कुछ लोग आते हैं और आपसे आपका आधार नंबर ले लिया जाता है।

एक किस्सा ऐसा भी सामने आया है जिसमे महज 500 रुपयों में एक आदमी आधार कार्ड की सभी जानकारी को बेंच रहा था। और एक किस्सा ऐसा भी जहां 600 रुपयों में फर्जी आधार कार्ड बनाया जा रहा था।
आप Times Of India, TribuneIndia की ये post देखे :- Aadhar Card Scam , Selling Aadhar Details

आधार कार्ड से और क्या-क्या गलत काम हो सकते हैं ?

जैसे-जैसे सभी चीजें online होते जा रही है , risk उतना ही बढ़ते जा रहा है। कब कौन सी software बन जाये इसकी कोई limit नहीं है। कईओं तरीकों से आपके आधार कार्ड का गलत इस्तेमाल हो सकता है।
सरकार भी चाहे तो वो आपके आधार कार्ड का गलत इस्तेमाल कर सकती है। वो इसको अपने अनुसार इस्तेमाल कर सकता है।
वहीँ जब online की बात आती है तो आपके documents leak हो जाने से आपको बार-बार advertisements दिखाए जा सकते हैं।
कोई आपके आधार कार्ड में छेड़छानि करके आपको की झूठा साबित कर सकता है और उससे अपना documents तैयार कर सकता है।


आधार कार्ड के दुरुपयोग से कैसे बचे। 

जहां तक सुरक्षा की बात आती है :- तो आधार कार्ड को single person use करने का नियम बनाना होगा। जिससे की वही person सिर्फ अपने आधार के details को change कर पायेगा। यानि उसमे fingerprint enable करना होगा।
लेकिन यहां कोई भी internet user आपके मोबाइल OTP से आपके आधार में आसानी से change कर देता है।

आप क्या कर सकते हैं :- आप अपनी आधार कार्ड की जानकारी किसी को भी ना दें।
fake websites , forums , survey , job vacancy ऐसी जगहों में अपना आधार कार्ड ना दें।
यदि कोई आधार नंबर मांगे तो उनसे प्रश्न करे , बेईमान और ईंमानदार व्यक्ति को पहचानना सीखे।

fake call , आने पर मोबाइल का OTP ना दें।
जितना ज्यादा हो सके offline काम करने की कोसिस करें।

आधार कार्ड अब ये आपकी पहचान बन गई है। लोग अब कागज को ही सही मानते हैं इसीलिए अपनी पहचान को सुरक्षित रखे।
तो दोस्तों ये थी जानकारी आधार कार्ड के दुरुपयोग के बारे में। यह जानकारी मैंने आप सभी लोगों को सतर्क करने के लिए लिखी है। आपको ये जानकारी कैसे लगी , हमें comment करके जरूर बताये। यदि आपका कोई सवाल है, तो वो भी बताये।


और इस post को अपने दोस्तों तक जरूर शेयर करें।
अपना महत्वपूर्ण समय देकर इस post को पढ़ने के लिए आपका बोहोत-बोहोत धन्यवाद।

Share this