Interest Rate-ब्याज दर-Kya Hota Hai


नमस्कार दोस्तों आपका AnekRoop में स्वागत है। आज हम जानेंगे कि interest rate यानि ब्याज दर क्या होता है। आपने कई बार सुना होगा कि interest rate 2 % , 3 % तो ये interest rate क्या होती है ? और ये कहाँ - कहाँ इस्तेमाल होती है ? इसे हम कैसे calculate करते हैं ? और इसको जानना हरेक व्यक्ति के लिए जरूरी क्यों है ?
तो आज कुछ ख़ास , कुछ अलग आपके लिए हम लाये हैं जिसे पढ़कर आपको नई जानकारी मिलेगी।

interest rate kya hota hai
interest rate kya hota hai
.
Interest Rate ( ब्याज दर ) क्या होता है ?

आप इसे एक उदाहरण से समझिये :- 2 पडोसी हैं -रिंकी और पिंकी। रिंकी के घर अचानक मेहमान आ जाते हैं रिश्ते के लिए और नास्ते  के लिए उसके घर में पैसे नहीं होते है , तो वह पिंकी से पैसे मांगने के लिए जाती है।

रिंकी - पिंकी मुझे 500 रुपये दोगी क्या ? मेरे घर में कुछ मेहमान आये हैं ?
पिंकी - हां क्यों नहीं। लेकिन तुम्हे इसे लौटाना होगा।
रिंकी - हां लौटा दूंगी , मेरे पति के आते ही मैं तुम्हे लौटा दूंगी।
पिंकी - वो सब तो ठीक है लेकिन मेरे पास अभी कम पैसे हैं अगले सप्ते मुझे घर का किराया भी देना है। तो तुम कुछ पैसे बढ़ा कर दे पाओगी क्या ?
रिंकी - ठीक है अगले सप्ते मैं तुम्हे 550 रुपये दे दूंगी।

तो इस तरह पिंकी को 500 रुपये के 550 रुपये मिले , वो भी एक सप्ताह में।
इसमें आप देखें तो 50 रुपये ज्यादा मिले हैं , तो ये जो अधिक 50 रुपये हैं इसे ही हम interest कहते हैं यानि ब्याज कहते हैं।

वहीँ जो 50 रुपये हैं वो मूल पैसे के यानि 500 रुपयों के कितने भाग में बंटे हैं वह है rate of interest , यानि दर।
जैसे - यहां 50 रुपयों को कितने बराबर -बराबर हिस्से में बाँटेंगे तो 500 आएगा ? तो 50  रुपये 10 लोगों को देंगे तो 500 आ जायेंगे। तो यहां rate of interest हुवा 10 % . आप simply इसे भाग करके निकाल सकते हैं।

तो आप देख पा रहे होंगे कि interest (ब्याज ) अलग है और rate (दर ) अलग है। जब ये दोनों मिलते हैं तो इसे हम interest rate (ब्याज दर ) कहते हैं।
Interest हमेशा पैसों में होता है वहीँ इसका rate हमेशा percentage (%) में होता है।

ये भी जाने :-


Interest Rate (ब्याज दर ) कैसे Calculate करते हैं ?

Interest Rate Calculate करने के लिए आपको सिर्फ भाग देना होता है।
ऊपर दिए गए उदाहरण का यदि आप interest rate निकालना चाहे तो वो कुछ इस प्रकार होगा :-
interest rate = मूल रुपये / सुध रुपये
                   = 500 /50  = 10 %

तो देखा ये कितना आसान है , आप इसे आसानी से निकाल सकते हैं।
अब जब भी कोई आपसे कहे कि इसका ब्याज 3% है, 4 % है तो आप समझ सकते हैं कि ये मूल पैसा और सुध पैसे को भाग करके आया है।


Interest Rate (%) से ब्याज (interest-Rs  ) कैसे calculate करते हैं।

इसको हम एक उदाहरण से समझाते हैं :- यदि आपको bike की जरूरत पड़ती है और दूकान के लोग कहते हैं कि 20000 रुपये आपको मूल (अभी ) देना होगा और बाकि के 40000 आप क़िस्त में दे सकते हैं जिसका ब्याज हम 10 % लेंगे आप इसे 2 साल में भर सकते हैं।

तो यहां पर आप देखेंगे कि यदि आप 2 साल तक पैसे जमा करते हैं तो आपको हरेक महीने कितने पैसे देने होंगे ? और मूल पैसों ( 20000+40000 ) का आपको कितना पैसा ज्यादा लगेगा ? आप यहां साफ़-साफ़ देख पा रहे हैं कि हमें ब्याज निकालने को कहा जा रहा है। यानि extra पैसा हमें और कितना लगेगा।

मान लीजिये कि आपको कोई interest नहीं देना है तो बैंक को हर महीने आप कितने पैसे देते ?
बाकि पैसा / समय = 40000 /24 महीने = Rs. 1666 हर महीने आपको देने पड़ते।

अब यदि आप interest के साथ पैसे देते हैं तो आपको कितने पैसे देने होंगे ?
Interest = 10 % of 40000 = 10 /100 * 40000 = 4000
यानि 2 सालों में आपको 4000 अधिक रुपये देने होंगे। इसे यदि महीने में आप देखें तो आप इसे महीने से भाग कर सकते हैं :- 4000 / 24  = 166

यानि महीने में आपको 166 रुपये अधिक देने होंगे जो आपको 1666 देना था तो 10 % ब्याज के कारन आपको
( 1666 + 166 = 1832 रुपये ) देने होंगे।

तो इस तरह आप interest rate से interest निकाल सकते हैं।



Interest Rate (ब्याज दर ) का इस्तेमाल कहाँ-कहाँ होता है ?

यह बेहद जरूरी जानकारी है , जिसे हर व्यक्ति को जानना चाहिए , यह हमारे ज़िन्दगी के हर क्षेत्र में उपयोगी है :-
जैसे :- बैंकों में  ( बैंक खाते में ,लोन में , फिक्स deposit में इत्यादि )
जब किसी वस्तु को आप EMI में खरीदते हैं, स्कूल के fee में , शॉपिंग में , tax pay करने में, bills देने में -बिजली बिल , पानी का bill , holding tax  इत्यादि।
आप कहे कि जहां पैसों का लेन-देन होता है वहाँ interest rate उपयोगी है , बिना interest rate के कोई भी कारोबार और किसी भी तरह का लेन-देन नहीं हो सकता है।

Interest Rate निकालने का आसान तरीका

अब हर समय तो आप calculation नहीं कर सकते तो इसका एक trick हमेशा याद रखे कि जब भी कोई बोले कि इस वस्तु का मैं 20 % दूंगा तो आप तुरंत बिना time waste किये 20 /100 कर दीजिये।
जैसे कोई बोले मैं ये मोबाइल 20 % कम में बेच रहा हूँ तो तुरंत 20 / 100 कर दें। फिर वो बोलेगा की इसकी कीमत 5000 थी तो आप तुरंत calculate कर सकते हैं 20 /100 *5000 = 1000 यानि 1000 कम में बेचेगा तो 4000 रुपये हुवे। तो ये आसान सा trick आप याद रखें।

तो दोस्तों ये थी जानकारी interest rate निकालने के लिए। मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको यह जानकारी जरूर पसंद आई होगी  , यदि आपका कोई सवाल या कोई सुझाव है तो हमें comment करके जरूर बताये।




और इस post को अपने दोस्तों तक जरूर शेयर करे।
अपना महत्वपूर्ण समय देकर इस post को पढ़ने के लिए आपका बोहोत-बोहोत धन्यवाद। 

Share this